तीर्थंकर कुंथनाथ और श्री प्रेम प्रकाश मेमोरियल कॉलेज में संयुक्त पांच दिवसीय स्काउट-गाइड शिविर का समापन

Spread the love

ख़ास बातें

  • स्काउट-गाइड के सिद्धांत जीवन में अनुकरणीय: डॉ. मंजुला जैन
  • कर्मठ और समाज सेवी बनाते हैं स्काउट-गाइड कैंप: प्रो. एमपी सिंह
  • स्काउट-गाइड सिखाता है निस्वार्थ देश प्रेम: डॉ. विनोद जैन
  • स्टुडेंट्स ने विभिन्न सांस्कृतिक प्रोग्रामों की दी रंगारग प्रस्तुति

–प्रो. श्याम सुंदर भाटिया

तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार डॉ. आदित्य शर्मा ने कहा, विश्व में आजकल चुनौतियां बहुत हैं। ऐसे में समाज को एकीकृत रखना अति आवश्यक है, नहीं तो विखंडित समाज मानवता का पतन कर देगा। अतः जीवन में चुनौतियों का सामना करने के लिए स्काउट-गाइड के नियमों को आत्मसात करना चाहिए। रजिस्ट्रार डॉ. शर्मा तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी के फैकल्टी ऑफ एजुकेशन की ओर से संचालित तीर्थंकर कुंथनाथ कॉलेज ऑफ एजुकेशन और श्री प्रेम प्रकाश मेमोरियल कॉलेज में बीएससी-बीएड इंटीग्रेटेड और बीए-बीएड एकीकृत पाठ्यक्रम के प्रशिक्षुओं के संयुक्त पांच दिवसीय स्काउट-गाइड शिविर समापन मौके पर बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। टीएमयू की एसोसिएट डीन डॉ. मंजुला जैन ने बतौर विशिष्ट अतिथि कहा, स्काउट-गाइड के सिद्धांत जीवन में अनुकरणीय हैं, जिनके जरिए योग्य नागरिकों का निर्माण संभव है। टीएमयू के निदेशक छात्र कल्याण प्रो. एमपी सिंह ने बतौर विशिष्ट अतिथि कहा, स्काउट-गाइड कैंपों के जरिए विद्यार्थियों में समाज सेवा, विश्व बंधुत्व, राष्ट्रीय एकता, आपदा प्रबंधन इत्यादि के गुण विकसित किए जा सकते हैं, ताकि वे एक चरित्रवान, कर्मठ और समाज सेवी के रूप में समाज और राष्ट्र को अपना योगदान दें। इससे पूर्व कार्यक्रम का शुभारम्भ अतिथियों ने संयुक्त रूप से मां सरस्वती के सम्मुख दीप प्रज्ज्वलित करके किया।

सर्वप्रथम अतिथि मंडल ने विभिन्न शिविरों का निरीक्षण किया। इस दौरान ट्रेनी टीचरों से मेहमानों ने सवाल-जवाब भी किए। इसके बाद इन कॉलेजों के स्टुडेंट्स ने विभिन्न सांस्कृतिक प्रोग्रामों की रंगारग प्रस्तुति दी। द्वितीय समूह ने अतिथियों के सम्मान मंे स्वागत गीत गाया। टाइगर ग्रुप ने सारे जहां से अच्छा हिंदुस्ता हमारा गीत का सामूहिक गान करके कार्यक्रम को देशभक्ति के रंग में रंग दिया। छात्र अध्यापिका आरती ने सारे तीरथ धाम आपके चरणों में गीत सुनाकर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। छात्रा सुरभि गिल ने पांच दिवसीय स्काउट गाइड शिविर की विभिन्न गतिविधियों का विवरण विस्तार से प्रस्तुत किया। स्काउट-गाइड शिविर में ध्वज शिष्टाचार, प्रशिक्षुओं को शिविर के नियम, रोटा चार्ट, झंडागीत, स्काउट-गाइड प्रार्थना, स्काउट-गाइड के नियम, राष्ट्रीय गीत, सेल्यूट करना, स्काउट गाइड के सिद्धांत, बाया हाथ मिलाना, पेट्रोलसिस्टम, पेट्रोल का झंडा, टोली का पौना, प्राथमिक सहायता, विभिन्न प्रकार की पट्टी जैसे-गोलपट्टी, तिकोनीपट्टी, सकरीपट्टी, कंधे की पट्टी, सिर की पट्टी आदि को बांधने का प्रशिक्षण दिया गया।

तीर्थंकर कुंथनाथ कॉलेज ऑफ एजुकेशन के प्राचार्य डॉ. विनोद जैन ने प्रशिक्षुओं से स्काउट-गाइड के नियम और सिद्धांतों पर चलने का आह्वान किया। उन्होंने कहा, स्काउट-गाइड निस्वार्थ देश प्रेम सिखाता है। इस अवसर पर प्राचार्य, तीर्थंकर आदिनाथ कॉलेज ऑफ एजुकेशन डॉ. रत्नेश जैन, प्राचायर्, श्री प्रेम प्रकाश मेमोरियल कॉलेज ऑफ एजुकेशन डॉ. अशोक कुमार लखेरा, श्री रंजीत सिंह, डॉ. हर्षवर्धन, डॉ. विनय कुमार, डॉ. सौरभ सिंह, डॉ. सुनील कुमार पांडे, श्री राहुल कुमार, श्रीमती रचना, श्रीमती पूनम चौहान, डॉ. शेफाली जैन, रूबी शर्मा, शिवांकी रानी, श्रीमती ममता यादव आदि उपस्थित रहे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!