महाराष्ट्र के राज्यपाल को उत्तराखण्ड की हेलीकाप्टर सेवाऐं उपलब्ध कराने पर कांग्रेस ने उठाये सवाल

Spread the love

देहरादून 30 अगस्त

कांग्रेस की मंडल मीडिया प्रभारी गरिमा दसोनी ने कहा की एक तरफ राज्य सरकार के पास अपने कर्मचारियों को तनख्वाह देने तक के पैसे नहीं है दूसरी तरफ लगातार बाजार से उधार उठाना पड़ रहा है ।जिसकी वजह से आज मात्र 20 सालों में राज्य पर 70 हजार करोड़ का कर्ज हो चुका है ऐसे में वह कौन से मानक हैं जिनके तहत महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के लिए राज्य सरकार न सिर्फ स्टेट प्लैन भेजती है बल्कि उसमें बैठकर दो मंत्री गार्ड ऑफ ऑनर भी देने जाते हैं। दसौनी ने कहा की कोश्यारी महाराष्ट्र के राज्यपाल हैं तो महाराष्ट्र सरकार को उनके आने-जाने की व्यवस्था करनी

चाहिए, भाजपा को अपने नेता की आवभगत के लिए  राज्य की जनता पर वित्तीय बोझ डालने का क्या मतलब?? दसौनी ने यह भी कहा की या तो सरकार वादा करें कि सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को आज के बाद आवागमन के लिए स्टेट प्लेन मुहैया कराए जाएंगे ।

दसौनी ने कहा कि यदि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का अपने राजनीतिक गुरु के लिए इतना प्रेम उमड़ रहा है तो वह या तो भाजपा संगठन से इस फिजूल खर्चे का भुगतान करवाएं  या फिर  व्यक्तिगत तौर पर इस खर्च को वहन करें। दसोनी ने कहा कि जिस राज्य सरकार के पास अपने कर्मचारियों को देने के लिए तनख्वाह वेतन भत्ते ना हो पुलिस ग्रेड पर बढ़ाने के लिए जो राज्य सरकार अपनी लाचार की दिखा रही हो वह आज इस तरह से अनाप-शनाप खर्च करने का सोच भी कैसे सकती है।

दसोनी ने कहा की जिस राज्य की जनता का बाल बाल रुआ रुआ कर्ज में डूबा हो उस जनता को इस तरह के खर्च से कोई लेना देना नही।

दसोनी ने राज्य सरकार को चेताया कि इस तरह के अनाप-शनाप खर्चों से पहले ही प्रचंड बहुमत और डबल इंजन की सरकार राज्य के ऊपर बहुत ज़्यादा वित्तीय बोझ डाल चुकी है अब कम से कम इस राज्य पर और राज्य की जनता पर सरकार रहम करे।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!