ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय द्वारा भी गोपेश्वर में मनाया गया हरेला

Spread the love

गोपेश्वर, 16 जुलाई (उहि)।प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय गोपेश्वर सेवा केंद्र के राजयोगी भाई बहनों द्वारा सेंट्रल स्कूल में बड़े हर्ष उल्लास के साथ हरेला पर्व मनाया गया ।

इस अवसर पर आम माल्टा नींबू कटहल जैसे 20 से अधिक प्रजाति के फलदार वृक्षों का पौधारोपण किया गया । हरेला पर्व सेंट्रल स्कूल के प्रिंसिपल  पराग कुमार, साथ ही वाइस प्रिंसिपल प्रदीप कुमार  की उपस्थिति यह पर्व मनाया गया, साथ ही पटियालधार नर्सिंग  सेंटर में भी पौधारोपण किया गया। इस अवसर पर डिप्टी सीएमओ श्रीमती उमा रावत  एवं दीवान सिंह खाती डिप्टी सीएमओ, चंद्रकला मंगाई डाटा ऑपरेटर, अनूप राणा कोविड-19 ऑपरेटर प्रवीण जी कोविड-19 धूम्रपान विशेषज्ञ ललित किमोठी की उपस्थिति में यह हरेला पर्व मनाया गया।

इसी के साथ ही गढ़वाल क्षेत्र में ब्रह्मा कुमारीज का वृहद वृक्षारोपण महा अभियान की भी शुरुआत हुई है अभियान की जानकारी देते हुए बेहद खुशी की बात है की पर्यावरण की रक्षा के लिए विश्व पर्यावरण दिवस 5 जून को पर्यावरण मंत्रालय भारत सरकार के सहयोग से कल्पतरु महा अभियान की शुरुआत की गई थी। जिसके अंतर्गत समस्त भारतवर्ष में 5 जून से 25 अगस्त तक 75 दिनों में 40 लाख पौधारोपण का महान लक्ष्य रखा गया है इसके साथ ही उत्तराखंड के ऐतिहासिक चिपको आंदोलन की 50 वी वर्षगांठ शुरू हो रही है तो इससे विशेश्वर से और अभियान के संदर्भ में गढ़वाल मंडल के पास पर्वतीय जिलों में ब्रह्माकुमारीज के 18 से अधिक सेवा केंद्रों के द्वारा ग्राम पंचायतों में बीके मेहर चंद जी डायरेक्टर ब्रह्माकुमारीज गढ़वाल क्षेत्र के निर्देशन में एक लाख से अधिक पौधारोपण करने का लक्ष्य रखा गया है आज उन्होंने इस अभियान को सफल बनाने के एवं वृक्षों की मॉनिटरिंग के लिए विशेष एप का डिजाइन किया गया है जिसके द्वारा व्यक्तियों के आध्यात्मिक मूल्यों को घोषित करने का काम किया जा रहा है जिससे वे प्रेरणा पाकर लगाए गए वृक्ष की अपने पुत्र की तरह देखभाल कर रहे हैं उन्होंने उद्यान विभाग द्वारा फलदार पौधे उपलब्ध कराए जाने पर विशेष आभार प्रकट किया है और गोपेश्वर सेवा केंद्र की तरफ से 10,000 फलदार को दे सेंटर के भाई बहनों के अथक सहयोग से लगाने का संकल्प लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!