हरीश रावत ने कहा 14 फ़रवरी को उत्तराखंड से भाजपा की विदाई हो जाएगी

Spread the love

देहरादून 8 जनवरी ( उ हि )। उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस चुनाव प्रचार समिति के अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कांग्रेस प्रदेश कार्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता में चुनाव आयोग द्वारा घोषित की गई तिथि का स्वागत करते हुए कहा कि 14 फरवरी को उत्तराखण्ड की जनता भाजपा सरकार की विदाई सुनिश्चत करने के लिए मतदान करेगी तथा राज्य की उत्तराखण्डियत को आघात पहुंचाने वाली, युवाओं के सपनों को रौंदने वाली, विकास को चैपट करने वाली, जनता पर मंहगाई को लादने वाली, नदी नाले-गाड गधेरों को रौंदने वाली उत्तराखण्डियत को बरबाद करने वाली सरकार को उखाडने के लिए जनता तैयार बैठी है।

उन्होंने कहा कि चुनाव की तिथियों का कांग्रेस पार्टी बडे उत्साहपूर्वक प्रतीक्षा कर रही थी, हमारे कांग्रेस के कार्यकर्ताओं में इस चुनाव को लेकर बडा भारी जोश है। जनता में भी इस लोकतंत्र के उत्सव के प्रति उत्सुकता है और ये जोश और उत्सुकता इस बात का द्योतक है कि राज्य में परिवर्तन की बयार बडी जोर से बह रही है जो इस लोकतांत्रिक विरोधी, कर्मचारी विरोधी, संघर्ष विरेाधी, विकास विरोधी सरकार की विदाई करने को तैयार बैठी है। उन्होंने चुनाव आयोग द्वारा आॅन लाईन नामांकन, डोर-टू-डोर कन्वेन्शन के लिए मात्र 5 व्यक्तियों की अनुमति तथा स्कूटर, रैली, आदि पर रोक के सवाल पर कहा कि कांग्रेस पार्टी इस चुनाव में सोशल मीडिया तथा आधुनिक तकनीक का पूरा उपयोग करते हुए चुनाव आयोग की गाईड लाईन का पूरी तरह से पालन करेगी। उन्होंने यह भी आशा व्यक्त की कि चुनाव में धन बल, सरकारी मशीनरी का दुरूपयोग तथा शराब आदि के प्रभाव को रोकने पर भी सख्ती बरती जायेगी। उन्होंने जनता से भी अपील की कि ऐसे तत्वों पर नजर रख कर उन्हें अपने मताधिकार से दंण्डित करने के लिए भी आगे आयें।
पूर्व मुख्यमंत्री ने यह भी आशा प्रकट की कि चुनाव आयोग ऐसे राज्य सरकार के अधिकारियों पर भी सजगता के साथ नजर रखेगा जिनका राज्य सरकार अपने हित के लिए दुरूपयोग कर सकती हो।  उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग की कोरोना के मद्देनजर चुनाव सम्पन्न कराने के लिए जारी गाईड लाईन्स का पालन करने के लिए राज्य व केन्द्र में बैठी हुई सरकारों के साथ एक रूपता व निष्पक्षता के साथ पालन कराया जाना सुनिश्चित किया जाना चाहिए। उन्होंन पश्चिम बंगाल के चुनाव का उदाहरण देते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल के चुनाव में केन्द्र में सत्तारूढ दल ने चुनाव आयोग की गाईड लाईन का जमकर उलंघन किया था ऐसे मामलों पर भी चुनाव आयोग नजर रखेगा जिससे लेवल प्लेइंग फील्ड तथा स्वतंत्र व निष्पक्ष चुनाव सम्पन्न हो सकें।
पत्रकारों के एक सवाल के जवाब में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि मुझे पार्टी जहां से भी चुनाव लडने का आदेश देगी मैं वहीं से चुनाव लडूंगा। उन्हांेंने चुटकी ली कि मैं तो नहा धोकर बैठा हूं, जहां से भी पार्टी द्वारा कहा जायेगा चुनाव लडूंगा। वहीं एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि हमने 45 विधानसभा क्षेत्रों में उम्मीदवारों के चयन को पूर्णतः सम्पन्न कर लिया है तथा अन्य क्षेत्रों में भी लगभग सहमति बन गई है। उम्मीदवारों की घोषणा कब करेंगे इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि यह रणनीतिक फैसला है इसमें सभी लोग आपसी विचार-विमर्श कर इस पर निर्णय करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि सभी 70 विधानसभा क्षत्रों में प्रथम चरण में जनसभायें लगभग पूर्ण कर ली हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!