पर्वतीय पत्रकार एसोसिएशन का छठा अधिवेशन ग्वालदम में शुरू, मंत्री ने पत्रकारों को सहयोग का भरोसा दिया

Spread the love

-ग्वालदम से हरेंद्र बिष्ट

पर्वतीय पत्रकार एसोसिएशन के छठवें अधिवेशन का उद्घाटन करते हुए समाज कल्याण, परिवहन मंत्री चंदन राम दास ने कहा कि समाज में जिस तरह की भूमिका पत्रकारों के द्वारा निभाई जाती हैं।उसे किसी भी तरह से नकारा नही जा सकता हैं।इस मौके पर उन्होंने पर्वतीय क्षेत्रों में कार्यरत पत्रकारों की समस्याओं के निराकरण के लिए हर संभव प्रयास करने का आश्वासन दिया।

ग्वालदम स्थित वन विभाग के डाक बंगले में आयोजित पीपीए की छठ़े अधिवेशन में बतौर मुख्य अतिथि कैबिनेट मंत्री चंदन राम दास ने कहा कि वास्तव में पर्वतीय क्षेत्रों में कार्यरत पत्रकारों किस विषम भगौलिक परस्थिति में काम करते हैं।इसका उन्हें पूरी तरह से अंदाजा हैं। कहा पिछले वर्षों में करोनो काल में जब आम आदमी घरों में दुबके हुए थे उस दौरान भी पत्रकार बिना अपनी एवं अपने परिजनों की परवाह किए बगैर जिस तरह से जन जागरुकता के कार्य में जुटे रहें उसकी जितनी भी सराहना की जाए कम हैं।

 

इस मौके पर उन्होंने पर्वतीय क्षेत्रों में कार्यरत पत्रकारों को 50 वर्षों के बाद पेंशन दिए जाने, पत्रकार कल्याण कोष की स्थापना, स्व राम प्रसाद बहुगुणा स्मृति पुरस्कार योजना को पुनः शुरू किए जाने का प्रयास करने का मंत्री ने आश्वासन दिया। इस मौके पर पीपीए के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष पिमोली ने मुख्य अतिथि सहित सभी पत्रकारों का अधिवेशन में स्वागत करते हुए दो दिवसीय सम्मेलन में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों की जानकारी दी। इस अवसर पर उपाध्यक्ष प्रकाश डिमरी, सचिव दिनेश जोशी,अरूण मैठाणी,केएस असवाल,केशर सिंह नेगी,एलपी लखेड़ा, दिनेश थपलियाल, महिपाल गुसाईं,प्रकाश कपरवाण, जयवीर मनराल, संजय कंडारी,हरेंद्र बिष्ट, मोहन गिरी,थराली प्रेस क्लब अध्यक्ष विनोद चंदोला, जयवीर भंडारी, राकेश सती, यशवंत बड़ियारी,हेम मिश्रा, कुंदन परिहार, रमेश थपलियाल, रमेश जोशी, गिरीश चंदोला, दीपक शाह,गुलाब रावत आदि ने विचार व्यक्त किए।इस मौके पर पिछले वर्षो दिवंगत हुए पत्रकारों के लिए दो मिनट मौन रखकर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस मौके पर पत्रकारों के साथ ही वन विभाग के रेंजर हरीश थपलियाल के नेतृत्व में मंत्री सहित अन्य अतिथियों ने पौधारोपण कर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!