तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी में कॉलेज ऑफ नर्सिंग की ओर से विश्व नर्सिंग डे पर फ्लोरेंस नाइटिंगेल का भावपूर्ण स्मरण

Spread the love

 

–प्रो. श्याम सुंदर भाटिया

कॉलेज ऑफ नर्सिंग के प्राचार्य प्रो. श्रीनाथ के. कुलकर्णी ने फ्लोरेंस नाइटिंगेल का भावपूर्ण स्मरण करते हुए कहा, द लेडी विद द लैंप की उपाधि से सम्मानित नाइटिंगेल की क्रीमिया वार के समय सैनिकों की सेवा अविस्मरणीय है। उल्लेखनीय है, नाइटिंगेल को 150 से भी अधिक किताबें लिखने के संग-संग पाई चार्ट बनाने का श्रेय भी जाता है। प्रो. कुलकर्णी तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी में कॉलेज ऑफ नर्सिंग की ओर से विश्व नर्सिंग डे पर आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे।

इससे पूर्व नर्सिंग की जननी फ्लोरेंस नाइटिंगेल के चित्र पर पुष्प चढ़ाकर और मोमबत्ती जलाकर श्रद्धांजलि दी गई। इस मौके पर कॉलेज के प्राचार्य प्रो. कुलकर्णी के अलावा वाइस प्रिंसिपल प्रो. जसलीन एम, डॉ. माया साहू, प्रो. शाकुली सेन,  डॉ. विकास चौधरी, रेणुका आदि की भी उपस्थिति रही।

नर्सिंग कॉलेज के एलटी में स्टुडेंट्स ने फ्लोरेंस नाइटिंगेल के चित्र पर पुष्प चढ़ाकर अपने-अपने अंदाज में उन्हें श्रद्धाजंलि दी। छात्रा नोबिया ने वो जो देखभाल मरीजों की घर-घर तक जाती है….फ्लोरेंस की वो पावन नर्सिंग कहलाती हैं… कविता सुनाकर फ्लोरेंस नाइटिंगेल का स्मरण किया। छात्रा आकांक्षा, शाजिया, जुनैद, सिमरन, भावना, प्राची, देवराज, रूचि आदि ने रोल प्ले के जरिए विभिन्न क्षेत्रों में नर्सों की भूमिका को समझाया। पीजी ट्यूटर मिस बिन्दु ने नर्सों की आवश्यकता, नर्सों के रोल और उनके अधिकारों के बारे में चर्चा की। छात्र असीम कुमार ने एक नर्स की पुकार कविता सुनाकर सबको भाव विभोर कर दिया। छात्राओं प्रियंका, श्रेया, पूजा, श्रुति, आकांक्षा और कशिश ने तेरी मिट्टी में मिल जावां…. गीत पर शानदार नृत्य की प्रस्तुति दी। इस अवसर पर फैकल्टीज- श्रीमती जूही, प्रियंका मैसी, पूजा भाकुनी, श्रीमती सरोज लता, मिस शिवानी, मिस अंजलि, मिस शिवांगी, मिस सोनिया, मिस सारिका आदि के संग-संग कॉलेज ऑफ नर्सिंग के 150 से अधिक छात्र-छात्राएं शामिल रहे। संचालन फैकल्टी मिस विजिमोल ने किया।

कॉलेज ऑफ नर्सिंग के प्राचार्य प्रो. श्रीनाथ के. कुलकर्णी ने फ्लोरेंस नाइटिंगेल का भावपूर्ण स्मरण करते हुए कहा, द लेडी विद द लैंप की उपाधि से सम्मानित नाइटिंगेल की क्रीमिया वार के समय सैनिकों की सेवा अविस्मरणीय है। उल्लेखनीय है, नाइटिंगेल को 150 से भी अधिक किताबें लिखने के संग-संग पाई चार्ट बनाने का श्रेय भी जाता है। प्रो. कुलकर्णी तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी में कॉलेज ऑफ नर्सिंग की ओर से विश्व नर्सिंग डे पर आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे। इससे पूर्व नर्सिंग की जननी फ्लोरेंस नाइटिंगेल के चित्र पर पुष्प चढ़ाकर और मोमबत्ती जलाकर श्रद्धांजलि दी गई। इस मौके पर कॉलेज के प्राचार्य प्रो. कुलकर्णी के अलावा वाइस प्रिंसिपल प्रो. जसलीन एम, डॉ. माया साहू, प्रो. शाकुली सेन,  डॉ. विकास चौधरी, रेणुका आदि की भी उपस्थिति रही।

नर्सिंग कॉलेज के एलटी में स्टुडेंट्स ने फ्लोरेंस नाइटिंगेल के चित्र पर पुष्प चढ़ाकर अपने-अपने अंदाज में उन्हें श्रद्धाजंलि दी। छात्रा नोबिया ने वो जो देखभाल मरीजों की घर-घर तक जाती है….फ्लोरेंस की वो पावन नर्सिंग कहलाती हैं… कविता सुनाकर फ्लोरेंस नाइटिंगेल का स्मरण किया। छात्रा आकांक्षा, शाजिया, जुनैद, सिमरन, भावना, प्राची, देवराज, रूचि आदि ने रोल प्ले के जरिए विभिन्न क्षेत्रों में नर्सों की भूमिका को समझाया। पीजी ट्यूटर मिस बिन्दु ने नर्सों की आवश्यकता, नर्सों के रोल और उनके अधिकारों के बारे में चर्चा की। छात्र असीम कुमार ने एक नर्स की पुकार कविता सुनाकर सबको भाव विभोर कर दिया। छात्राओं प्रियंका, श्रेया, पूजा, श्रुति, आकांक्षा और कशिश ने तेरी मिट्टी में मिल जावां…. गीत पर शानदार नृत्य की प्रस्तुति दी। इस अवसर पर फैकल्टीज- श्रीमती जूही, प्रियंका मैसी, पूजा भाकुनी, श्रीमती सरोज लता, मिस शिवानी, मिस अंजलि, मिस शिवांगी, मिस सोनिया, मिस सारिका आदि के संग-संग कॉलेज ऑफ नर्सिंग के 150 से अधिक छात्र-छात्राएं शामिल रहे। संचालन फैकल्टी मिस विजिमोल ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!