उत्तराखण्ड जबरदस्त शीतलहर की चपेट में, कई पहाड़ी नगरों में तापमान शून्य से नीचे

Spread the love

देहरादून, 19 दिसम्बर (हि) हिमालयी राज्य उत्तराखण्ड जबरदस्त शीत लहर की चपेट में आ गया है। प्रदेश के 5 हजार मीटर से ऊपर के स्थान तो स्थाई रूप से हिमाच्दादित रहते ही हैं मगर शीतकाल में हिम रेखा काफी नीचे आ जाने से प्रदेश के ऊंचाई वाले स्थानों का तापमान शून्य से नीचे चला गया है। उनके साथ ही टिहरी, अल्मोड़ा, पिथौरागढ़ और मुक्तेश्वर जैसे घनी बस्तियों वाले नगरों में भी न्यूनतम् तापमान शून्य से नीचे चला गया है। मौसम विभाग ने 23 दिसम्बर तक कड़ाके की सर्दी की चेतावनी के साथ ही मैदानी क्षेत्रों में 20 दिसम्बर तक बहुत घने कोहरे की चेतावनी भी दी है जिससे प्रदेश के मैदानी क्षेत्र भी शीतलहर की चपेट में आ गये हैं।

कहीं-कहीं बहुत घना कोहरा छाया रहेगा

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार 19 एवं 20 दिसम्बर को सम्पूर्ण उत्तराखण्ड कठोर शीतलहर की चपेट में रहेगा मैदानी जिलों हरिद्वार और उधमसिंहनगर में कहीं-कहीं बहुत घना कोहरा छाया रहेगा। कहीं-कहीं पाला पड़ने की भी संभावना है। जिससे ठण्ड और अधिक बढ़ जायेगी। 21 से लेकर 23 दिसम्बर तक भी ठण्ड का प्रकोप रहेगा और कहीं-कहीं मध्यम कोहरा छाया रहेगा। राज्य में 23 दिसम्बर तक कहीं कहीं पाला पड़ने की संभावना भी है।

देहरादून में तापमान4 डिग्री

पूर्वानुमान के अनुसार देहरादून में 18 दिसम्बर को न्यूनतम तापमान 4.1 डिग्री था जो 19 दिसम्बर को घट कर 4 डिग्री तक आ गया है। आगमी 20 एवं 21 दिसम्बर को भी कड़ाके की ठण्ड की यही स्थिति रहने वाली है।  आगामी 22 से लेकर 25 दिसम्बर तक न्यूनतम तापमान में 1 डिग्री सिल्सियस का सुधार आ सकता है, जिससे ठण्ड से थोड़ी राहत मिल सकती है। अधिकतम् तापमान 22 से 25 दिसम्बर के बीच 18 डिग्री तक रह सकता है, जिस कारण लोग दिन में गुनगुनी धूप का आनन्द उठा सकेंगे।

टिहरी नगर में तापमान 1 डिग्री सल्सियस

टिहरी नगर में सुबह-शाम का तापमान शून्य के करीब आ जाने से यह पहाड़ी नगर भीषण ठण्ड की चपेट में आ चुका है। मौसम विभाग के अनुसार वहा 19 दिसम्बर को न्यूनतम् तापमान 1 डिग्री सल्सियस तक आ गया है। टिहरी में 21 दिसम्बर तक यही स्थिति रहेगी लेकिन 22 दिसम्बर से 1 डिग्री तापमान बढ़ने के आसार है। लेकिन 25 दिसम्बर तक न्यूनतम तापमान 2 डिग्री से अधिक बढ़ने की संभावना नहीं है।

अल्मोड़ा में तापमान शून्य से 2 डिग्री नीचे

प्रदेश की सांस्कृतिक नगरी अल्मोड़ा भीषण ठण्ड की चपेट में है। वहां का न्यूनतम् तापमान शून्य से नीचे गिर कर 2 डिग्री सेल्सियस तक पहंुच गया है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार अल्मोड़ा में 21 दिसम्बर तक न्यूनतम् तापमान माइनस 2 डिग्री रहेगा, लेकिन 22 दिसम्बर को पारा शून्य से 1 डिग्री उठ जायेगा फिर भी 25 दिसम्बर तक माइनस 1 डिग्री डिग्री ही रहेगा। वहां क्रिसमस शून्य से नीचे तापमान में ही मनाया जा सकेगा। लेकिन इस पहाड़ी नगर में दिन का तापमान देहरादून से थोड़ा अधिक ही रहेगा जिससे पहाड़ के लोग गुनगुनी धूप का आनन्द भी उठा सकेंगे।

पन्तनगर भी जबरदस्त शीत लहर की चपेट में

औद्योगिक नगरी पन्तनगर भी जबरदस्त शीत लहर की चपेट में है। वहां न्यूनतम् तापमान देहरादून से भी कम 3 डिग्री सिल्सियस चल रहा है। वहां 22 से लेकर 25 दिसम्बर तक न्यूनतम तापमान 1 डिग्री बढ़ कर 4 डिग्री सेल्सियस तक हो जायेगा। पन्तनगर में दिन का तापमान भी देहरादून से कम 14 से 15 डिग्री के बीच रहने का का पूर्वानुमान है।

मुक्तेश्वर में तापमान शून्य से 1 डिग्री नीचे

नैनीताल जिले का मुक्तेश्वर भी भीषण ठण्ड की चपेट में है। वहां इन दिनों न्यूनतम् तापमान शून्य से 1 डिग्री नीचे चल रहा है। वहां 22 और 23 दिसम्बर को न्यूनतम तापमान शून्य डिग्री और 24 से 25 के बीच सुधर कर 1 डिग्री सेल्सियस रहने का पूर्वानुमान है। दिन का तापमान भी वहां 7 डिग्री है जो कि 22 तारीख के बाद 8 डिग्री तक पहुंच

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!