माता पिता की फटकार से भागी नाबालिग लड़कियों को पुलिस ने उनके परिजनों को सौंपा

Spread the love

-थराली से हरेंद्र बिष्ट–

माता पिता के द्वारा डांटने पर घर छोड़ कर घर से भागने की कोशिश कर रही दो नाबालिग लड़कियों को सकुशल बरामद कर थराली थाना पुलिस ने उनको परिजनों की सुपूर्द कर दिया है।जिस पर परिजनों ने पुलिस का आभार व्यक्त किया है।

मिली जानकारी के अनुसार रविवार को देवाल ब्लाक के कोटेड़ा गांव दो नाबालिक लड़कियां माता पिता की डांट डपट से आक्रोशित हो कर प्रात: 6बजें घर से कही चली गई थी। परिजनों द्वारा काफी ढूंढखोज के बाद जब नाबालिकों के सम्बन्ध में कोई भी सूचना नही मिली तो रात्रि करीब 8 बजे परिजनों ने 15 एवं 16 वर्षीय लड़कियों के गुम होने की सूचना पुलिस चौकी देवाल को दी जिस पर पुलिस ने
परिजनों की तहरीर पर थाना थराली में 35/2022 धारा 363 आईपीसी बनाम अज्ञात पंजीकृत किया कर इसकी सूचना जिले को दी जिसे गंभीर से लेते हुए पुलिस अधीक्षक चमोली प्रमेन्द्र डोबाल ने पुलिस क्षेत्राधिकारी कर्णप्रयाग अमित कुमार सैनी एवं थराली थाना निरीक्षक ब्रजमोहन सिंह राणा को तत्काल आवश्यकता कार्रवाई के निर्देश दिए।जिस पर पुलिस टीम द्वारा सर्विलांस सेल की मदद से लोकेशन प्राप्त की तो दोनों की लोकेशन नारायणबगड़ के पंती- मींग गधेरे के बीच मिली। जिस पर पुलिस ने सघन अभियान चलाया तों। देहरादून जाने वाली बस की चैकिंग के दौरान दोनों लड़कियां अपने चेहरे पर मास्क लगाए बैठी थी। दोनों की फोटो से मिलान किया गया तो वही दोनों नाबालिक लड़कियां मिली दोनों को चौकी लाकर घर से जाने का कारण पूछा तो उन्होंने माता-पिता द्वारा बेवजह डांटना,मारना कारण बताया और देहरादून में नौकरी करने जाने की बात कही। दोनों को उनके परिजनों के सुपुर्द किया गया। पुलिस द्वारा की गयी त्वरित कार्यवाही पर परिजनों ने पुलिस का आभार व्यक्त करते हुए उनके कार्य की जमकर सराहना की इस पुलिस टीम में स्वंयम प्रभारी निरीक्षक बृजमोहन राणा, नारायणबगड़ चौकी प्रभारी अनिल बिंजोला, देवाल चौकी प्रभारी दिनेश पंवार, कां0 दीपक नेगी, अशोक के अलावा सर्विलांस सेल के चन्दन नागरकोटी, कां0 राजेन्द्र रावत आदि सामिल थें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!