टीएमयू के ताज में अटल रैंकिंग ने जोड़े नए पंख

Spread the love

ख़ास बातें

  • तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी स्टुडेंट्स के सर्वांगीण विकास के लिए प्रतिबद्ध
  • सीसीएसआईटी के आईआईसी कंवीनर आशीष साधुवाद के पात्र :प्रो. द्विवेदी
  • कुलाधिपति बोले, प्रो. द्विवेदी और उनकी संकल्पित टीम को रैंकिंग का श्रेय

 

प्रो. श्याम सुंदर भाटिया /डॉ. संदीप वर्मा

तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी के कॉलेज ऑफ कंप्यूटिंग साइंसेज़ एंड इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी-सीसीएसआईटी को अटल रैंकिंग में बैंड-परफॉर्मर का खि़ताब मिला है। इसका एलान खुद केंद्रीय शिक्षा राज्य मंत्री श्री सुभाष सरकार ने किया। अटल रैंकिंग ऑफ इन्स्टीट्यूशन्स ऑन इन्नोवेशन अचीवमेंट्स-एआरआईआईए के इस संस्करण की चार श्रेणियां बैंड-एक्सिलेंट, बैंड-परफॉर्मर, बैंड-प्रॉमिसिंग और बैंड-बिगिनर हैं। इस बड़ी उपलब्धि से गदगद फ़ैकल्टी ऑफ इंजीनियरिंग एंड कम्प्यूटिंग साइंसेज़-एफओईसीएस के निदेशक प्रो. राकेश कुमार द्विवेदी ने उम्मीद जताई, कॉलेज के छात्र-छात्राओं और शिक्षकों के लिए यह उपलब्धि एक मील का पत्थर साबित होगी। इस रैंकिंग ने सफलता के ताज में एक नया पंख जोड़ा है, जिसका कॉलेज हर तरह से हकदार है। महामारी के इस समय में कॉलेज को सभी बाधाओं पर विजयी होते देखना सबसे बड़ी खुशी है। हम स्टुडेंट्स को उनके तकनीकी ज्ञान के साथ-साथ अन्य शैक्षणिक, अनुसंधान, खेल और सांस्कृतिक गतिविधियों में मार्गदर्शन और निगरानी करते हैं। टीएमयू के कुलाधिपति श्री सुरेश जैन, जीवीसी श्री मनीष जैन, एमजीबी श्री अक्षत जैन ने एफओईसीएस के निदेशक प्रो. राकेश कुमार द्विवेदी को हार्दिक बधाई देते हुए कहा, प्रो. द्विवेदी के कुशल मार्गदर्शन और नेतृत्व में उनकी टीम की कड़ी मेहनत, समर्पण, दृढ़ संकल्प और लगन के कारण यह उत्कृष्ट रैंक प्राप्त करने का सपना साकार हुआ।

टीएमयू अपने छात्रों के सर्वांगीण विकास के लिए संकल्पित है। सीसीएसआईटी का इन्स्टीट्यूशन्स इन्नोवेशन सेल-आईआईसी लगातार युवा छात्रों को नए विचारों और प्रक्रियाओं से अवगत कराकर उन्हें प्रोत्साहित, प्रेरित और पोषित कर रहा है, जिससे उन्हें इन्नोवेशन और क्रिएटिविटी के जरिए स्टार्टअप्स स्थापित करने और उद्यमिता के क्षेत्र में नए मुकाम हासिल करने में सहायता मिल सके। प्रतिभा और कड़ी मेहनत करने की क्षमता कॉलेज को सफलता के शिखर पर पहुंचाएगी। कॉलेज को सफलता की नई ऊंचाइयों पर ले जाने में सभी छात्र-छात्राओं, शिक्षकों और कर्मचारियों के प्रयास, समर्पण और प्रतिबद्धता शामिल हैं। इस उपलब्धि के लिए एआरआईआईए के नोडल ऑफिसर और सीसीएसआईटी के आईआईसी कंवीनर श्री आशीष विश्नोई साधुवाद के पात्र हैं।

एआरआईआईए शिक्षा मंत्रालय की एक पहल है, जिसे एआईसीटीई और एमओई के इनोवेशन सेल के माध्यम से लागू किया गया है ताकि रैंकिंग से संबंधित संकेतकों पर देश के सभी प्रमुख उच्च शिक्षण संस्थानों और विश्वविद्यालयों को व्यवस्थित रूप से रैंक करने के साथ छात्रों और संकायों के बीच नवाचार और उद्यमिता विकास का समर्थन किया जा सके। एआरआईआईए के इस संस्करण में एमओई ने रैंकिंग को चार श्रेणियों में विभाजित किया है, लेकिन एआरआईआईए 2021 की ऑल इंडिया रैंकिंग के तहत सभी उच्च शिक्षा संस्थानों को छह कैटेगरी में बाँटा गया है, जिसमें सीसीएसआईटी ने प्राइवेट टेक्निकल कॉलेज कैटेगरी में आवेदन किया था। कुलपति प्रो. रघुवीर सिंह, रजिस्ट्रार डॉ. आदित्य शर्मा और एसोसिएट डीन एवम् आईआईसी की प्रेसीडेंट डॉ. मंजुला जैन ने कहा, यह हम सब के लिए गौरव के पल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!