चमोली गढ़वाल की पिंडर घाटी को कुमाऊं के पावर ग्रिड से जोड़ने की मांग

Spread the love

थराली से हरेंद्र बिष्ट

अब एक बार फिर से पिंडर घाटी के तीनों विकासखंडों को कुमाऊं मंडल के बागेश्वर जिले के डंगोली स्थित 33 केवी बिजली लाइन से जोड़ने की मांग उठने लगी हैं।इस संबंध में देवाल के ब्लाक प्रमुख डॉ दर्शन दानू ने सचिव ऊर्जा को एक पत्र भेज कर पिंडर घाटी को कुमाऊं ग्रीट से जोड़ने की मांग की हैं।

Dr. Darshan Singh Danu block pramukh Deval

दरअसल पिछले लंबे समय से सिमली स्थित 132 केवी बिजली सबस्टेशन से पिंडर घाटी के नारायणबगड़, थराली एवं देवाल विकासखंडों में बिजली आपूर्ति की जाती रही हैं। किंतु नारायणबगड़ से सिमली के बीच काफी बड़े क्षेत्र में चट्टानी भाग होने एवं घना जंगल होने के कारण आये दिन बिजली आपूर्ति बाधित रहती हैं। बरसात में तों लाइनों के क्षतिग्रस्त हो जाने के कारण कई,कई दिनों तक बिजली आपूर्ति बाधित रहना आम बात है।2013 की आपदा में भी सिमली से नारायणबगड़, थराली, देवाल की बिजली लाइन को बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो जाने के कारण कई सप्ताह तक इस क्षेत्र में बिजली आपूर्ति ठप हो गई थी। बाद में केबिनेट मंत्री सतपाल महाराज के निर्देश पर इस क्षेत्र को कुमाऊं की लाइन से जोड़ कर बिजली बहाल की गई थी। किंतु बाद में स्थिति सामान्य होते ही पुनः इस क्षेत्र को सिमली से जोड़ दिया गया। पिछले कई महीनों से एक बार फिर से बिजली आपूर्ति में व्यवधान होने के कारण बिजली की समस्या बढ़ गई हैं। जिसे देखते हुए देवाल प्रमुख डॉ दर्शन दानू ने ऊर्जा सचिव को एक पत्र सौप कर पिंडर घाटी को कुमाऊं में आने वाली बिजली लाइन से जोड़ने एवं क्षेत्रीय जनता को नियमित बिजली आपूर्ति करने की मांग की हैं।पत्र पर ऊर्जा सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम ने आवश्यक कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!