मानसूनी आपदा से उत्तराखंड में भारी तबाही : कम से कम 4 मरे, 13 लापता, कई घायल, 40 से अधिक पशु मरे , कई मकान क्षतिग्रस्त

Spread the love
–उत्तराखंड हिमालय बुरो —
देहरादून 20 अगस्त। शनिवार को उत्तराखंड के देहरादून और टिहरी जिलों में आसमान के कहर  बन कर बरसने से लोगों को भारी तबाही का सामना करना पड़ा। इस आसमानी आफत से टिहरी, देहरादून और पौड़ी जिलों में कम् से कम् 4 लोगों के हताहत हो गये जबकि टिहरी, देहरादून और पौड़ी जिलों के 13 लोग अब तक लापता हैँ, जिनकी तलाश जारी है। इनके अलावा तीनों जिलों में कम से कम एक दर्जन लोग घायल हैँ। राज्य में 161 मार्ग क्षतिग्रस्त हुए हैँ और कई जिलों में बिजली आपूर्ति अवरुद्ध है।
राज्य आपातकालीन परिचालन केंद्र से प्राप्त जानकारी के अनुसार शनिवार की विनस्कारी बारिश से टिहरी जिले की धनोल्टी तहसील के गवाड़ गाव और कीर्तीनगर के कोठार गाव में अति वृष्टि से भारी तबाही हुयी है । गवाड़ गाव में  2 व्यक्ति मृतक् और 5 लापता है। एक व्यक्ति कीर्तीनगर में लापता है। दोनो तहसीलों में 32 पशु मारे गये और 20 मकान तथा 5 गौशालाये क्षतिग्रस्त हुयी। देहरादून जिले के  भैंसवाड़ा रायपुर क्षेत्र में बादल फटने से 12 व्यक्ति घायल और् 7 लापता हुए हैँ। इस इलाके में 1-1भवन् और गौशाला क्षतिग्रस्त हुए।
पौड़ी जिले की उदयपुर पट्टी की यमकेश्वर तहसील के गाव बिनक में 1 महिला की मृत्यु, 6 पशु हानि और 13 भवन  और 5 गौशालाएं क्षतिग्रस्त हुयी हैँ वहां एक घराट भी बाह गया। यमकेश्वर में बिनक के अलावा आवाई, मारल, डिगोगी, बैरागढ़, बूंगा, महेड, कंडाई, उमरोली, बड़ोली एवं बिख्यानी गाव अति वृष्टि से प्रभावित हुए है।
आपातकालीन परिचालन केंद्र से जारी विग्यप्ति के अनुसार : —

 लोक निर्माण विभाग के अन्तर्गत आज कुल 161 मार्ग अवरुद्ध हुये तथा 33 मार्ग कल के अवरूद्ध थे अर्थात कुल 194 अवरूद्ध मार्गों में से 49 मार्गों को आज खोल दिया गया है। शेष 145 मार्ग अवरूद्ध हैं, जिसमें से 01 राष्ट्रीय राजमार्ग, 30 राज्य मार्ग, 15 मुख्य जिला मार्ग, 09 अन्य जिला मार्ग एवं 90 ग्रामीण मार्ग अवरूद्ध है। इसके अतिरिक्त पी0एम0जी0एस0वाई0 के अन्तर्गत आज 94 मार्ग अवरुद्ध हुये तथा 65 मार्ग कल अवरूद्ध थे अर्थात कुल 159 अवरूद्ध मार्गो में से आज 19 मार्गो को खोल दिया गया है, शेष 140 अवरुद्ध मार्गो को खोले जाने की कार्यवाही गतिमान है। वर्तमान में राष्ट्रीय राजमार्गों पर 03 मशीने, राज्य राजमार्गो पर 34 मशीने, मुख्य जिला मार्गो पर 23 मशीने, अन्य जिला मार्गो पर 10 मशीने, तथा ग्रामीण मार्गो पर 105 मशीने, कुल 175 मशीने कार्य कर रही है। इसके अतिरिक्त पी0एम0जी0एस0वाई0 के मार्गो पर 97 मशीने लगायी गयी है।ऊर्जा विभाग के अन्तर्गत राज्य के जनपदों में विद्युत आपूर्ति सुचारू है। जिला चमोली, नैनीताल, पौड़ी, देहरादून, अल्मोड़ा, पिथौरागढ़, उत्तरकाशी, रूद्रप्रयाग के क्षेत्रों में वर्षा के कारण कई ग्रामों में विद्युत व्यवस्था बाधित चल रही है। वर्तमान तक राज्य में कुल 752 ग्रामों में विद्युत बाधित थी। जिसमें से 555 ग्रामों की विद्युत आपूर्ति पूर्णरूप से सुचारू कर दी गई हैं। शेष 197 ग्रामों में विद्युत आपूर्ति हेतु कार्य गतिमान है।

जल संस्थान के अन्तर्गत आपदा से पेयजल योजनाओं के क्षतिग्रस्त होने पर तत्काल योजना से सुचारू जलापूर्ति उपलब्ध कराये जाने हेतु शाखाओं के अन्तर्गत कार्यरत प्रशिक्षित फिटर एवं बेलदार तैनात किये गये हैं। आपदा की स्थिति में, पेयजल की वैकल्पिक व्यवस्था हेतु विभिन्न शाखाओं में 71 विभागीय टैंकर उपलब्ध हैं एवं 219 किराये के पेयजल टैंकर चिन्हित हैं। राज्य के अन्तर्गत वर्ष 2022 में दैवीय आपदा/अतिवृष्टि से वर्तमान तक कुल 975 पेयजल योजनायें क्षतिग्रस्त हो चुकी हैं, जिनमें से 950 पेयजल योजनायें अस्थायी व्यवस्था से चालू कर दिया गया हैं। शेष 25 (टिहरी कीर्तिनगर-23, देहरादून-1, बागेश्वर-1) योजनाओं को चालू किये जाने की कार्यवाही प्रगति पर हैं। वर्तमान तक प्राप्त सूचनानुसार विगत 03 दिवस के भीतर दैवीय आपदा/अतिवृष्टि से 28 पेयजल योजनायें क्षतिग्रस्त हुई हैं, जिनमें से 03 पेयजल योजनाओं को अस्थायी व्यवस्था से चालू कर दिया गया है। शेष 25 योजनाओं को चालू किये जाने की कार्यवाही प्रगति पर हैं।

वन विभाग के अन्तर्गत देहरादून जनपद के अन्तर्गत जोहरी मार्ग, निकट पुलिस हेडक्वार्टर जाखन में दिनांक 20.08.2022 को पूर्वाह्न 9ः45 बजे पानी के तेज बहाव के साथ आये 01 वृक्ष के पुलिया में फंसने के कारण पानी का बहाव रूकने की सूचना पर वन विभाग की टीम द्वारा मौके पर पहुंचकर वृक्ष को हटाकर नदी के बहाव को सुचारू किया गया। नैनीताल जनपद के अन्तर्गत हल्द्वानी मोटर मार्ग पर रिया नर्सरी-श्री हनुमान मन्दिर के समीप प्रातः सुरई के 07 वृक्षों के गिरने से यातायात बाधित होने की सूचना पर वन विभाग एवं लोक निर्माण विभाग की संयुक्त टीम द्वारा मौके पर पहुंचकर वृक्षों को हटाकर यातायात सुचारू कराया गया।
चम्पावत जनपद के अन्तर्गत लोहाघाट तहसील में किमतोली-पंचेश्वर मार्ग पर 01 चीड़ वृक्ष गिरने की सूचना पर वन विभाग की टीम द्वारा मौके पर पहुंचकर वृक्ष को हटाने की कार्यवाही करते हुए यातायात सुचारू किया गया। उक्त घटनाओं में किसी भी प्रकार के जान-माल की क्षति की सूचना प्राप्त नहीं है।

सिंचाई विभाग के अन्तर्गत 19.08.2022 को मध्य रात्रि में जनपद देहरादून में आयी अतिवृष्टि के कारण सिंचाई विभाग की विभिन्न नहरें एवं बाढ़ कार्य को नुकसान हुआ है। विकासखण्ड रायपुर एवं डोईवाला के ग्रामीण क्षेत्रों में 4 नहरों के हैड एवं नहरों को भारी क्षति हुई है एवं 8 बाढ़ कार्यो को भी नुकसान हुआ है। बाढ़ का पानी कम होने पर दैवीय आपदा क्षतिग्रस्त नहरों एवं बाढ़ कार्यों को पुनः मरम्मत कर लिया जायेगा।

एस.डी.आर.एफ. के अन्तर्गत जनपद देहरादून एस.डी.आर.एफ. पोस्ट चकराता को पिकअप वाहन गहरी खाई में गिर गया हे सूचना मिलते ही एस.डी.आर.एफ. टीम मुख्य आरक्षी भरत रावत के हमराह रेस्क्यू टीम गजतना स्थल के लिए रवाना हुई व खाई में पैदल मार्ग द्वारा घायल व्यक्ति को सुरक्षित स्थान पे लाया गया व प्राथमिक उपचार किया गया व 108 एम्बुलेंस के माध्यम से अस्पताल भिजवाया गया। देहरादून पोस्ट सहस्त्रधारा को कंट्रोल रूम द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि प्रेम नगर परवल के पास दो व्यक्ति नदी में फंस गए हैं सूचना मिलते ही एस.डी.आर.एफ. टीम तत्काल घटनास्थल पर पहुंची व नदी में फंसे व्यक्तियों को सकुशल रोप के माध्यम से बाहर निकला गया। जनपद देहरादून पोस्ट सहस्त्रधारा आपदा कंट्रोल रूम द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि ग्राम सर खेत रायपुर में बादल फट गया है कई लोग फंसे हैं सूचना मिलते ही एस.डी.आर.एफ. टीम घटनास्थल पर पहुँची व रोप के माध्यम से फंसे लोगो को सुरक्षित बाहर निकला गया व सुरक्षित स्थान पर ले जाया गया।
जनपद देहरादून एस.डी.आर.एफ. बटालियन जॉलीग्रांट पुलिस उपाधीक्षक डोईवाला रानीपोखरी महोदय द्वारा बताया गया कि थानो रायपुर रोड के बीच में पुल टूटने से एक व्यक्ति फंसे होने की सूचना है एसडीआरएफ टीम की आवश्यकता है उक्त सूचना पर बटालियन अलर्ट टीम घटनास्थल के लिए तत्काल रवाना हुई व एक व्यक्ति नदी में बह गया व कार में से 5 लोगों को निकाल लिया गया  व सर्च अभियान अब भी जारी है। जनपद पिथौरागढ़ पोस्ट पिथौरागढ़ पुलिस लाइन कंट्रोल रूम द्वारा सूचना प्राप्त हुई मल्लिका अर्जुन स्कूल के पास घरो में मलवा घुस गया है, एस.डी.आर.एफ. टीम तत्काल घटनास्थल पर पहुँची एवं राहत कार्य किया गया।
जनपद चम्पावत पोस्ट टनकपुर एस.डी.आर.एफ. को सूचना प्राप्त हुई की एक लड़की बनबसा नदी मे बह गयी, सूचना मिलते ही एस.डी.आर.एफ. टीम घटनास्थल पर पहुँची व लड़की को ढूंढ़ने का सर्च ऑपरेशन चलाया गया व सर्चिंग अभी भी जारी है। जनपद उत्तरकाशी पोस्ट उजेली को सूचना प्राप्त हुई की डोडी ताल मार्ग पर एक विदेशी यात्री लापता है उक्त सूचना पर टीम रवाना है।जनपद पौड़ी गढ़वाल एस.डी.आर.एफ. टीम श्रीनगर को सूचना मिली की गोदी कोठार गाँव मे एक मकान पहाड़ी से नीचे बह कर दब चुका है व एक महिला मकान के मलबे मे दबा होना बताया गया सूचना मिलते ही एस.डी.आर.एफ. टीम घटनास्थल के लिए रवाना हुई व रेस्क्यू अभियान चलाया गया की व सर्चिंग अब भी जारी है।

कृषि विभाग के अंतर्गत जनपद टिहरी के 9 विकासखण्ड में विभिन्न ग्रामों में कुल 227.40 है. कृषि भूमि अतिवृष्टि से प्रभावित हुई है, जिसमें 65 है. असिंचित भूमि में क्षति 50 प्रतिशत से अधिक हुई है। 20.40 है. सिंचित भूमि में क्षति का प्रतिशत 33 से अधिक एवं 147 है. कृषि भूमि में क्षति 33 प्रतिशत से कम हुई है।
जनपद देहरादून के विकासखण्ड रायपुर के अंतर्गत विभिन्न ग्रामों की कुल 8.25 है. सिंचित कृषि भूमि अतिवृष्टि से प्रभावित हुई है। जिसमें क्षति 33 प्रतिशत से कम हुई है। अतिवृष्टि से भूमि कटाव तथा मलबा आने से कृषि भूमि की क्षति हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!