चमोली के डीएम खुराना ने बद्रीनाथ में मास्टर प्लान के कार्यों का स्थलीय निरीक्षण किया

Spread the love

श्रमिक तथा संसाधन बढ़ा कर कार्यों में तेजी लाने के दिए निर्देश

गोपेश्वर, 30 नवम्बर (गुसाईं )। जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने बुधवार को बद्रीनाथ धाम पहुॅचकर मास्टर प्लान के अन्तर्गत संचालित तमाम निर्माण कार्यों का स्थलीय निरीक्षण किया। उन्होंने कार्यदायी संस्था को निर्देशित किया कि पर्याप्त संख्या में मशीनें व मैनपावर लगाते हुए निर्माण कार्यो में तेजी लाई जाए। उन्होंने खास हिदायत दी कि रिवर फ्रंट डेवलपमेंट कार्यो को जल्द से जल्द पूरा करें और मंदिर परिसर के सौन्दर्यीकरण कार्यो को भी शीघ्र शुरू किया जाए।


जिलाधिकारी ने कहा कि यदि कही पर समस्या है, तो उसको तत्काल संज्ञान में लाया जाए। जिलाधिकारी ने तहसील प्रशासन और पीआईयू को बद्रीनाथ में अवस्थापना सुविधा स्थापित करने हेतु शीघ्र प्लान तैयार करने के निर्देश भी दिए। ताकि अगले सीजन में यात्रियों का आवागमन सुचारू रहे और किसी भी यात्री को असुविधा का सामना न करना पडे।
बद्रीनाथ धाम में बीआरओ बाईपास, बद्रीश झील व शेष नेत्र झील का सौन्दर्यीकरण का कार्य लगभग पूरा हो गया है। जबकि अराइवल प्लाजा, वन वे लूप रोड़, अस्पताल विस्तारीकरण तथा रिवर फ्रंट डेवलपमेंट का कार्य तेजी से चल रहा है।


जिलाधिकारी के साथ निरीक्षण के दौरान अधीक्षण अभियंता राजेश शर्मा, एसडीएम कुमकुम जोशी, पीआईयू के अधिशासी अभियंता विपुल सैनी, ईओ सुनील पुरोहित सहित कार्यदायी संस्थाओं एवं विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

 

प्रधानमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट के तहत ब्रदीनाथ धाम में मास्टर प्लान के अन्तर्गत तीन चरणों में बुनियादी ढांचे का विकास किया जा रहा है। जिसमें पहले चरण का कार्य चल रहा है। पहले चरण में अराइवल प्लाजा, बीआरओ बाईपास, लूप रोड निर्माण, शेष नेत्र व बदरीश झील का सौन्दर्यीकरण, अस्पताल का विस्तारीकरण तथा रिवर फ्रंट डेवलपमेंट के कार्य किए जा रहे है। दूसरे चरण में बदरीनाथ मुख्य मंदिर व उसके आसपास के क्षेत्र का सौंदर्यीकरण किया जाएगा। जबकि अगले चरण में मंदिर से शेष नेत्र झील को जोड़ने वाले आस्था पथ का निर्माण किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!