मोदी की बद्री केदार यात्रा के लिए गौचर में थी आपात लैंडिंग की व्यवस्था

Spread the love

-गौचर से दिगपाल गुसाईं —
खुफिया एजेंसियों व पुलिस प्रशासन में उस समय भारी हलचल देखने को मिली जब साढ़े आठ बजे के करीब वायुसेना के दो एम आई 17 हैलीकॉप्टर गौचर हवाई पट्टी के ऊपर मंडराने लगे।


दरअसल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के केदारनाथ व बद्रीनाथ दौरे के दिन आपातकालीन लैंडिंग के लिए गौचर हवाई पट्टी में भी पूरी व्यवस्था की गई थी। हालांकि 21अक्टूबर को प्रधानमंत्री सुबह आठ बजे के आसपास सीधे केदारनाथ चले गए। लेकिन गौचर में तैनात खुफिया एजेंसियां व पुलिस प्रशासन सुबह से ही अलर्ट मूड में तैनात हो गया था। गौचर हवाई पट्टी ही नहीं बल्कि हवाई पट्टी के पांच सौ मीटर के दायरे को छावनी में तब्दील कर दिया गया था। चप्पे पर पुलिस तैनात कर दी गई थी। प्रधानमंत्री के रहने खाने के लिए सीमा सड़क संगठन व भारत तिब्बत सीमा पुलिस वल की 8 वीं वाहिनी के अतिथि गृहों को गत दिवस से ही सुरक्षा एजेंसियों ने अपने कब्जे ले लिया था।मुख्य बाजार से सभी वाहनों को हटाकर मैदान में खड़ा करवाया गया था। साढ़े आठ बजे के आसपास जब गौचर हवाई पट्टी के ऊपर वायु सेना के दो एम आई 17 हैलीकॉप्टर मंडराने लगे तो पट्टी से लगे हुए पांच सौ मीटर के दायरे में पूरी तरह आवागमन ठप्प कर दिया गया था।दो हैलीकॉप्टरों ने साढ़े आठ बजे के आसपास लैंड किया तो तीसरे ने नौ बजे के आसपास। दरअसल प्रधानमंत्री के काफिले में चल रहे वायुसेना के हैलीकॉप्टर यहां तेल भरने के लिए आए थे।तेल भरने के पश्चात दो हैलीकॉप्टरों ने पौने दस बजे के आसपास केदारनाथ के लिए उड़ान भरी तो तीसरे ने पौने ग्यारह बजे सीधे बद्रीनाथ के लिए उड़ान भरने के पश्चात ही सुरक्षा व्यवस्था में लगे अधिकारियों कर्मचारियों ने राहत की सांस ली। बहरहाल शुक्रवार का दिन गौचर भारी हलचल भरा रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!