बद्रीनाथ में फर्जी होटल बुकिंग के नाम पर तीस लाख से ज्यादा की ठगी, अभियुक्त गिरफ्तार

Spread the love

गोपेश्वर, 14 जून (महिपाल गुसाईं)। वर्तमान में चल रही चारधाम यात्रा के दौरान साइबर ठगों द्वारा फर्जी साइट तैयार कर ऑनलाइन होटल बुकिंग के नाम पर आम जनता से फोन व अन्य सोशल साईट्स के माध्यम से सम्पर्क कर लाखों रुपये की ठगी की जा रही है। इसी क्रम में 26 मई को शिकायतकर्ता मोहिन्दर सिंह निवासी 104 श्री गणेश अपार्टमेंट केबिन रोड़ अम्बरनाथ थाणे ने कोतवाली श्री बद्रीनाथ में आकर तहरीर दी कि द18 मई को उनके द्वारा 26 मई से 28 मई के लिए  बद्रीनाथ में ऑनलाइन होटल बुकिंग की गयी, जिसमें उनके साथ नितिन मो0 नं0 (8509427497) द्वारा फ्रॉड किया गया। उनके द्वारा 2800 रुपये अकाउंट नंबर 50100512594972 एचडीएफसी बैंक जो अंजलि के नाम से है, 2000 व 1200 रुपये क्यूआर कोड के माध्यम से होटल द्वारिकेश में कमरे की बुकिंग हेतु भेजे गए। जिसके बाद उनके साथ कुल 6000/- रुपये का फ्रॉड हो गया, जिस पर कोतवाली श्री बद्रीनाथ पर *मु0अ0सं0 03/22 धारा 420 भादवि* पंजीकृत किया गया। देशभर में श्रद्धालुओं के साथ घटित हो रही हेलीकॉप्टर बुकिंग फ्रॉड के बाद *होटल बुकिंग फ्रॉड* की घटना की गम्भीरता का स्वयं संज्ञान लेते हुए पुलिस अधीक्षक जनपद चमोली *श्रीमती श्वेता चौबे* महोदया द्वारा फ्रॉड से सम्बन्धित अभियुक्त की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु पुलिस टीम गठित की गई। विवेचना संयुक्त टीम एवं एसओजी व थाना गोपेश्वर में नियुक्त वरिष्ठ उपनिरीक्षक संजीव चौहान के सपुर्द की गई। अभियुक्त की गिरफ्तारी हेतु वरिष्ठ उपनिरीक्षक संजीव चौहान के नेतृत्व में एसओजी टीम द्वारा कुशल सुरागरसी-पतारसी व सर्विलांस शाखा एवं तकनीकी सहायता से फोन कॉल्स एवं लोकेशन के आधार पर अभियुक्त का भरतपुर (राजस्थान) होना पाया गया। पुलिस अधीक्षक महोदया के आदेश से अभियुक्त की तलाश व सभी जानकारी मिलने के बाद गिरफ्तारी हेतु पुलिस टीम को राजस्थान रवाना किया गया।
साइबर अपराध तकनीकी यूनिट भरतपुर (राजस्थान) की सहायता एवं मुखबिर की सूचना पर अभियुक्त को *भरतपुर(राजस्थान)* से गिरफ्तार किया गया। नाम पता पूछने पर उसने अपना नाम *हकमुद्दीन पुत्र फजरुद्दीन निवासी राधानगरी थाना कामां जिला भरतपुर (राजस्थान) उम्र-22 वर्ष* बताया गया। उक्त की तलाशी में एक मोबाइल व एक आधार कार्ड मिला जिसमें 8950661216 सिम था। पुलिस द्वारा पूछताछ करने पर अभियुक्त के द्वारा बताया गया कि सिम एवं मोबाइल फोन का प्रयोग मैने Airtel Payment Bank का खाता खोलने में किया है, जिसका मैं धोखाधड़ी के पैसे निकालने में प्रयोग करता हूँ। दिनाँक 18 मई को मैने ही बद्रीनाथ में *होटल द्वारिकेश* की फर्जी बुकिंग की थी व एयरटेल पैमेंट बैंक से पैसे निकाल लिए थे जिसके बाद मोबाइल व सिम फेंक दिया था। उक्त अभियुक्त को हिरासत में लिया गया व उसके पास से मु0अ0सं0 03/22 धारा 420 भादवि से संबंधित सिम नंबर 8950661216 को कब्जे पुलिस लिया गया।
दिनांक 18/04/2022 को इनके द्वारा *अंजली निवासी बागपत (उत्तर प्रदेश)* के नाम का फर्जी अकाउंट खोला गया । अभियुक्त से पूछताछ में अहम सुराग प्रकाश में आये हैं। इसके द्वारा अंजली नाम के खाता संख्या 50100512594972 में मई माह में 27 लाख से अधिक की धोखाधड़ी देश के विभिन्न हिस्सों से ऑनलाइन होटल बुकिंग फ्रॉड फर्जी आईडी के सिम के माध्यम से किया गया। अभियुक्त द्वारा लॉकडाउन के दौरान ओएलएक्स, किताबों व शराब की होम डिलीवरी के नाम पर भी फ्रॉड किया गया। जनपद पुलिस को चारधाम यात्रा मार्ग पर पड़ने वाले होटलों व धर्मशालाओं में अंजली नाम से कई लोगों के साथ ठगी की शिकायतें पूर्व में प्राप्त हो चुकी है। जिसमें निकट भविष्य में गिरोह के अन्य सदस्यों की गिरफ्तारी की जाएगी।
*अपराध का तरीका-* अभियुक्त ने पूछताछ में बताया कि पहले मैं OLX पर फ्रॉड करता था किन्तु लोग जागरुक हो गये तो अब मैं होटल बुकिंग के नाम पर फ्रॉड करता हूँ। खासकर जो भी धर्म स्थल हैं मैं उन धर्मस्थलों के होटल को पहले सर्च करता हूँ फिर अपना नम्बर फर्जी साइट बनाकर उन होटल के नाम पर फीड कर देता हूँ और जब भी कोई होटल बुकिंग की कॉल आती है तो उन कॉल को रिसीव कर अंजली नाम के फर्जी अकाउंट में धोखाधड़ी के पैंसे डलवाता था, व उसके उपरांत मोबाइल के माध्यम से उन्हें अन्य खातों में भेज देता था। एक सिम एवं एक मोबाइल को मैं एक या दो बार ही प्रयोग करता हूँ। फिर सिम या मोबाइल को बेच या फेंक देता हूँ। मेरे द्वारा प्रतिदिन चारधाम यात्रा जाने वाले यात्रियों के साथ ऑनलाइन होटल बुकिंग के नाम पर लाखों रुपयों की धोखाधड़ी की गयी।
अभियुक्त ने गूगल पर अपना नंबर चारधाम यात्रा में पड़ने वाले होटलों के नाम पर अपलोड किया था,जब भी कोई व्यक्ति होटल सर्च करता तो इनका नंबर फ्लैश हो जाता था, और फिर फर्जी ऑनलाइन होटल बुकिंग के नाम पर पूरे देशभर में लोगो से ठगी करता था।

*विगत माह भी चमोली पुलिस द्वारा देशभर में हेलीकॉप्टर बुकिंग के नाम पर फ्रॉड करने वाले अभियुक्त को नवादा(बिहार) से गिरफ्तार किया था।*

*पुलिस कार्यवाही-* अभियुक्त के द्वारा धोखाधड़ी का पैसा ठगी में प्रयुक्त एचडीएफसी खाते से अलग-अलग खातों में ट्रांसफर करना पाया गया, जिसके पश्चात एचडीएफसी खाते से जिन खातों में ठगी का पैंसा ट्रासफर किया गया था, उनका अवलोकन करने पर पाया गया कि अभियुक्त द्वारा एयरटेल पैमेंट बैंक के खाते में पैंसे ट्रांसफर किये गये हैं। एयरटेल पैमेंट बैंक खाते का अवलोकन करने पर खाते की केवाईसी से प्राप्त मोबाइल नंबर 8950661216 की लोकेशन व कैफ के आधार पर अभियुक्त की पहचान *हकमुद्दीन पुत्र फजरुद्दीन निवासी राधानगरी थाना कामां जिला भरतपुर (राजस्थान) उम्र-22 वर्ष* के रुप में की गयी एवं संज्ञान में आया कि अभियुक्त द्वारा अलग-अलग ई-मित्र सेंटर से 15% कमीशन देकर पैसा निकाला जाता है। अभियुक्त के द्वारा धोखाधड़ी का पैंसा एय़रटेल पैमेंट बैंक,एक्सिस बैंक में जमा करवाए गए थे जिनको फ्रीज करवाया गया है। अभियुक्त के कब्जे से एयरटेल पैमेंट बैंक से लिंक मोबाइल नंबर व एक मोबाइल फोन बरामद किया गया। साथ ही बैंक ट्रांजेक्शन डिटेल के आधार पर चमोली पुलिस द्वारा होटल बुकिंग फ्रॉड का शिकार हुए अन्य लोगों से संपर्क किया जा रहा है।
वर्तमान में चमोली पुलिस को होटल बुकिंग के नाम पर हुए फ्रॉड सम्बन्धी अन्य शिकायतें भी प्राप्त हो रही हैं, जिनकी जाँच करने पर उपरोक्त गिरोह की ही संलिप्तता परिलक्षित हो रही है।

चमोली पुलिस ने आम जनता से अपील है किः

 अधिकृत वेबसाइट से ही होटल बुकिंग करें।
 गूगल में वेबसाइट सर्च करने के बाद सबसे ऊपर आने वाली वेबसाइट को ही अधिकृत वेबसाइट न मानें।
 बिना जांच परख के किसी भी वेबसाइट को खोलने से बचें, पहले संबंधित वैबसाइट को लेकर पूरी जानकारी जुटा लें।
 वेबसाइट को पूरी तरह से परखने के बाद ही पेमेंट करें।
 अगर ऑनलाइन भुगतान कर रहे हैं तो वेबसाइट पर दर्ज फोन नंबर और बैंक अकाउंट नंबर की जांच होटल और धर्मशाला से फोन पर संपर्क कर जरुर करें।
 यदि कोई भी व्यक्ति ठगी का शिकार होता है तो तत्काल नजदीकी थाना एवं साइबर हेल्पलाइन नंबर 1930 पर सूचना दें।

*बरामद माल-* 01 फोन व सिम नंबर 8950661216,आधार कार

उक्त घटना के सफल अनावरण एवं अभियुक्त की गिरफ्तारी करने वाली पुलिस टीम को पुलिस अधीक्षक चमोली द्वारा 2500/- रुपये ईनाम की घोषणा की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!