मौसम की खराबी के कारण केदारनाथ यात्रा रोकी गयी : चारधाम यात्रा में अब तक 63 यात्रियों की मौतें

Spread the love

 

उत्तराखण्ड हिमालय ब्यूरो।
देहरादून, 24 मई। मौसम की खराबी के कारण प्रशासन ने केदारनाथ के लगभग 14 हजार तीर्थ यात्रियों को विभिन्न पड़ावों पर रोक दिया है। शेष तीनों धामों की यात्रा आज मंगलवार को भी सुचारू रूप से जारी है। अब तक इन चारों हिमालयी धामों में 9,33,568 श्रद्धालु दर्शन कर चुके हैं। चारधाम यात्रा में अब तक 63 यात्रियों की विभिन्न कारणों से मौतें हो चुकी हैं।
राज्य आपातकालीन परिचालन केन्द्र से जारी सूचना के अनुसार मौसम की खराबी के कारण आज प्रातः 9.45 बजे केदारनाथ धाम के यात्रियों को विभिन्न पड़ावों पर रोका गया है। सूचनानुसार आज 14,498 यात्रियों को केदारनाथ जाना था। अब तक 3,12,732 यात्री केदारनाथ के दर्शन कर चुके हैं। आज केदारनाथ जाने वाले 997 वाहनों को विभिन्न स्थानों पर रोका गया है। आज भी केदारनाथ के दो यात्रियों की मौत हुयी है। इस प्रकार अब तक विभिन्न कारणों से केदारनाथ जाने वाले 30 यात्रियों की मौतें हो चुकी हैं।
परिचालन केन्द्र की सूचना के अनुसार इस दौरान कल 23 मई को उत्तरकाशी के डुण्डा क्षेत्र में मारुति कार के दुर्घटनाग्रस्त होने से एक व्यक्ति की मौत हो गयी। 23 मई को ही केदारनाथ घाटी में कर्णशिला-जाबरी-माली मोटर मार्ग पर डम्पर के खाई में गिरने से एक व्यक्ति की मौत और 3 अन्य घायल हो गये।
इधर मंगलवार को बदरीनाथ धाम में 17,968 यात्रियों को दर्शन लाभ करने हैं। इस धाम में अब 2,96,507 तीर्थयात्री दर्शन कर चुके हैं। यात्रियों के साथ ही 38,788 वाहन भी बदरीनाथ पहुंच चुके हैं। बदरीनाथ मार्ग अपेक्षतया सुगम होने के कारण यहां केदारनाथ की तुलना में यात्रियों की कम मौतें हुयी हैं। अब तक वहां 12 यात्रियों के मरने की सूचना है। बदरीनाथ से अधिक मौतें यमुनोत्री की यात्रियों की हुयी हैं। आज एक यात्री की मौत के साथ ही यमुनोत्री के यात्रियों की मौतों की संख्या 17 हो गयी है। गंगोत्री यात्रा में अब तक सबसे कम 4 यात्रियों की जानें गयी हैं। अब तक गांगोत्री में 1,82,677 और यमुनोत्री में 1,32,870 यात्रियों ने दर्शन किये हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!