बड़े पर्दे पर पहली बार जेम्‍स बॉन्‍ड का किरदार निभाने वाले सर शॉन कॉनरी को इफ्फी की श्रद्धांजलि

Spread the love

52वां भारतीय अंतर्राष्‍ट्रीय फिल्‍म समारोह (इफ्फी) सर्वाधिक प्रसिद्ध काल्‍पनिक ब्रिटिश जासूस जेम्‍स बॉन्‍ड का बड़े पर्दे पर पहली बार किरदार निभाने वाले सर शॉन कॉनरी को विशेष श्रद्धांजलि दे रहा है। इफ्फी का 52वां संस्‍करण 20 से 28 नवम्‍बर, 2021 तक हाइब्रिड मोड में आयोजित किया जाएगा। इफ्फी फिल्‍म प्रेमियों को बड़े पर्दे पर शॉन कॉनरी के करिशमाई कारनामों का लुत्‍फ उठाने का अवसर प्रदान करेगा।

शॉन कॉनरी ने अपने अभिनय के करियर की शुरुआत कोरस में एक एक्‍स्‍ट्रा के रूप में, मामूली किरदार निभाने और मॉडलिंग करने से की। उन्होंने बॉडी बिल्डिंग में पसीना बहाया, जिसकी परिणति 1950 की मिस्टर यूनिवर्स स्‍पर्धा में भाग लेने में हुई, जहां उन्होंने तीसरा स्थान हासिल किया। इसके बाद उन्हें एनअदर टाइम, एनअदर प्लेस (1958) फिल्‍म में लाना टर्नर के साथ अपनी पहली बड़ी भूमिका निभाने के लिए आठ साल का इंतजार करना पड़ा और उसके बाद ‘बॉन्ड, जेम्स बॉन्ड’ उक्ति को अमर बनाने में और चार साल का वक्‍त लगा।

कॉनरी को मर्डर ऑन द ओरिएंट एक्सप्रेस (1974) ; द मैन हू वुड बी किंग (1975); आउटलैंड (1981); 1993 में आई फिल्‍म राइजिंग सनड्रैगनहार्ट (1996); और द रॉक (1996) में उनके अभिनय के लिए भी जाना जाता है। 1999 में, कॉनरी ने एंट्रैपमेंट का निर्माण करने के साथ-साथ उसमें अभिनय भी किया। वर्ष 2000 में उनकी फिल्‍म फाइंडिंग फॉरेस्टर आयी, जो उनकी बेहतरीन फिल्मों में से एक थी

इस काल्‍पनिक किरदार को निभाने के लिए विख्‍यात स्‍कॉटलैंड के इस अभिनेता का पिछले साल सोते समय निधन हो गया था। उन्‍हें विशेष श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए उनकी पांच फिल्‍मों को प्रदर्शित करने के लिए चुना गया है, जिनमें- फ्रॉम रशिया विद् लव (1963), गोल्‍डफिंगर (1964), यू ओनली लिव ट्वाइस (1967), द हंट फॉर रेड अक्‍टूबर (1990) और द अनटचेबल्‍स (1987) –जिसके लिए उन्‍हें 1988 में ऑस्‍कर से सम्‍मानित किया गया, शामिल हैं।

सर शॉन कॉनरी को असली जेम्‍स बॉन्‍ड के रूप में याद किया जाता है। उन्‍होंने ही इस फिल्‍म की सबसे लोकप्रिय उक्ति – ‘ द नेम्‍स बॉन्‍ड … जेम्‍स बॉन्‍ड’ सबसे पहली बार बोली। अपने सात दशक के अभिनय के कार्यकाल के दौरान उन्‍होंने सात रोमांचक जासूसी फिल्‍मों को अपनी अदाकारी से सजाया ।

इयान फ्लेमिंग्‍स की बॉन्‍ड फिल्‍मों में सीक्रेट एजेंट 007 के रूप में उनकी बेमिसाल अदाकारी ने उन्‍हें हॉलीवुड के सर्वाधिक आत्‍मविश्‍वास से भरपूर अभिनेताओं की कतार में ला खड़ा किया।उनकी  डॉ. नो  (1962); गोल्‍डफिंगर (1964); फ्रॉम रशिया, विद् लव (1964); थंडरबाल (1965); यू ओनली लिव ट्वाइस (1967) और डायमंड्स आर फॉरएवर (1971) तथा नैवर से नैवर अगेन (1983) फिल्‍में अभी तक प्रशसंकों के दिलों पर राज करती है।

इफ्फी में सर शॉन कॉनरी को श्रद्धांजलि के रूप में प्रदर्शित की जाने वाली फिल्‍मों का सारांश निम्‍नलिखित है:

द हंट फॉर रेड अक्‍टूबर

1. फ्रॉम रशिया, विद् लव – ब्रिटेन | 1963 | अंग्रेजी | 115 मिनट. | रंगीन

निर्देशक : टेरेंस यंग

जेम्‍स बॉन्‍ड श्रृंखला की दूसरी कड़ी में एजेंट 007 लौट आया है। इसमें वह एक गुप्‍त आपरधिक गिरोह स्‍पैक्‍टर का मुकाबला कर रहा है। रूसी रोज़ा क्‍लैब और क्रोन्‍स्‍टीन, लैक्‍टर नाम के एक डिकोडिंग उपकरण को हासिल करने निकले हैं। वे बॉन्‍ड को अपनी मदद करने का लालच देने के वास्‍ते आकर्षक तातियाना का इस्‍तेमाल करते हैं। बॉन्‍ड तातियाना से मिलने के लिए इस्‍तांबुल जाता है। दुश्‍मन के साथ घातक मुठभेड़ों में अपनी जान बचाने के लिए उसे अपनी बुद्धि पर ही भरोसा करना होगा।

2. गोल्‍डफिंगर – ब्रिटेनअमरीका| 1964 | अंग्रेजी | 110 मिनट. | रंगीन

निर्देशक : गाये हेमिल्‍टन

स्‍पेशल एजेंट 007 का सामना अपने समय के सबसे कुख्‍यात खलनायक से होता है और अब उसे हर हाल में इस ताकतवर दादा को चकमा देना है और उससे ज्‍यादा ताकत बटोरनी होगी, ताकि वह फॉक्‍स नॉक्‍स पर धावा बोलने और विश्‍व अर्थव्‍यवस्‍था को नष्‍ट करने की उसकी कपटपूर्ण योजना को भुनाने से रोक सके।

3. यू ओनली लिव ट्वाइस – ब्रिटेन,जापान | 1967 | अंग्रेजी | 117 मिनट | रंगीन

निर्देशक : लुईस गिलबर्ट

शीत युद्ध के दौरान अमरीकी और रूसी अंतरिक्ष यान गायब हो जाते हैं, प्रत्येक महाशक्ति इसके लिए दूसरी महाशक्ति को दोषी मानने लगती है। दुनिया परमाणु युद्ध के कगार पर पहुंच चुकी है और ऐसे में ब्रिटिश खुफिया एजेंसी को पता चलता है कि एक जहाज जापान के सागर में उतरा है। जेम्स बॉन्ड (कॉनरी) अपनी खुद की मौत का ढोंग करता है और उसके बाद उसको जांच के लिए भेजा जाता है। जापान में, उसे टाइगर तनाका और अकी का साथ मिलता है, जो उसे एक भयावह वैश्विक साजिश को उजागर करने में मदद करते हैं।

4. द अनटचेबल्‍स – अमरीका | 1987 | अंग्रेजी | 119मिनट | रंगीन

निर्देशक : ब्रायन डी पाल्‍मा

अमरीका में निषिद्ध होने के बावजूद एक गुंडा  अल कैपोन शराब के अपने गैर कानूनी कारोबार को जारी रखे हुए है। एक फेडरल एजेंट इलियट नैस को कैपोन के गैर कानूनी कारोबार का पर्दाफाश करने और उसे कानून के हवाले करने का जिम्‍मा सौंपा जाता है

 

5. द हंट फॉर रेड अक्‍टूबर – अमरीका | 1990 | अंग्रेजी | 135 मिनट | रंगीन

निर्देशक : जॉन मैक्‍टीरनान

उच्‍च प्रौद्योगिकी वाली सोवियत परमाणु पनडुब्‍बी रेड अक्‍टूबर कैप्‍टेन मार्को रेमियस (कॉनरी) की कमान में अमरीकी तट की ओर बढ़ रही है। अमरीकी सरकार सोचती है कि रेमियस हमले की योजना बना रहा है। अकेले सीआईए विश्‍लेषक (ब्‍लेडविन) को लगता है कि रेमियस दूसरे पक्ष से जा मिलने की योजना बना रहा है, लेकिन उसके पास उसे तलाशने और साबित करने के लिए केवल कुछ ही घंटे हैं- क्‍योंकि पूरी रूसी नौसेना और वायु कमान भी उसे तलाशने की कोशिश कर रही हैं!

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!