उद्योग मित्र समिति की बैठक में उद्योग संचालकों की समस्याओं पर हुआ विवहार

Spread the love

 

-उत्तराखंड हिमालय ब्यूरो —

गोपेश्वर, 7 नवंबर। मुख्य विकास अधिकारी डा.ललित नारायण मिश्र ने सोमवार को विकास भवन सभागार में जिला स्तरीय उद्योग मित्र समिति की बैठक ली। जिस में उद्योगों के अवस्थापना विकास और उद्योग संचालकों की विभिन्न समस्याओं के समाधान के निर्देश दिए गए।


मुख्य विकास अधिकारी ने जिले औद्योगिक क्षेत्र को बढाने के लिए कालेश्वर व सिमली के अतिरिक्त अन्य स्थानों को चिन्हित करने के निर्देश महाप्रबंधक उद्योग को दिए। ताकि अधिक से अधिक औद्योगिक इकाईयों को जनपद में स्थापित किया जा सके। औद्योगिक आस्थान कालेश्वर में बरसाती पानी से हो रहे नुकसान की समस्या पर उन्होंने एनएच, लोनिवि और उद्योग विभाग के अधिकारियों को औद्योगिक आस्थान कालेश्वर का संयुक्त निरीक्षण कर 15 दिन में रिपोर्ट उपलब्ध कराने को कहा। वही सिमली में फीडर की मांग हेतु यूपीसीएल को प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि उद्यमियों को उद्योग संचालन में हर संभव सहायता की जाएगी।
जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबन्धक वीएस कुंवर ने बताया कि एमएसएमई के अन्तर्गत विभिन्न इकाइयों को रू0 28.72 लाख तथा औद्योगिक व आस्थान कालेश्वर में कार्यरत इकाई 2.56 लाख का विशेष राज्य परिवहन दावा स्वीकृत किया गया। औद्योगिक आस्थान कालेश्वर में बरसाती नाले के पानी से कार्यालय का भवन क्षतिग्रस्त हुआ है। राष्ट्रीय राजमार्ग से बरसात का पानी नाले के रूप में औद्योगिक क्षेत्र में आता है जिसके लिए नाले का ट्रीटमेंट किया जाना आवश्यक है। उन्होंने औद्योगिक क्षेत्र के नालों को सीवर ट्रीटमेंट प्लांट से जोड़ने की बात रखी।
बैठक में लीड बैक अधिकारी प्रताप सिह राणा, कोषाधिकारी दीपिका चौहान, मुख्य उद्यान अधिकारी तेजपाल सिह एवं उद्यमी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!