संविधान दिवस पर यूपी उच्च शिक्षा परिषद के चेयरमैन जीसी त्रिपाठी होंगे टीएमयू के ख़ास मेहमान

Spread the love

 

मुरादाबाद, 25 नवंबर। यूपी स्टेट काउंसिल ऑफ हायर एजुकेशन के चेयरमैन प्रो. गिरीश चंद्र त्रिपाठी तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी के मुख्य अतिथि होंगे। कॉलेज ऑफ लॉ एंड लीगल स्टडीज की ओर से 26 नवंबर को संविधान दिवस पर यूनिवर्सिटी के ऑडी में प्रो. त्रिपाठी विशेष व्याख्यान देंगे।

यह जानकारी लॉ कॉलेज के डीन प्रो. हरबंश दीक्षित ने दी। ऑडी में प्रातः 10ः30 बजे मां सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्ज्वलन के साथ कार्यक्रम का शंखनाद होगा। 12.10 पर मुख्य वक्ता प्रो. गिरीश चंद्र त्रिपाठी अपने विचार प्रकट करेंगे। इससे पूर्व टीएमयू के कुलाधिपति श्री सुरेश जैन का ख़ास संबोधन होगा।

प्रो. दीक्षित अतिथियों का स्वागत करते हुए थीम प्रस्तुत करेंगे । सेमिनार में टीएमयू के कुलाधिपति प्रो. रघुवीर सिंह भी अपना उद्बोधन देंगे। इससे पहले रजिस्ट्रार डॉ. आदित्य शर्मा यूनिवर्सिटी विशेषकर लॉ कॉलेज की विकास यात्रा पर प्रकाश डालेंगे। एसोसिएट डीन प्रो. मंजुला जैन भी कानून के स्टुडेंट्स से रूबरू होंगी। कॉलेज ऑफ लॉ एंड लीगल स्टडीज के प्रिंसिपल प्रो. सुशील कुमार सिंह धन्यवाद भाषण प्रस्तुत करेंगे , जबकि लॉ कॉलेज के एचओडी डॉ. अमित वर्मा मुख्य वक्ता की जीवन-यात्रा पर प्रकाश डालेंगे। उल्लेखनीय है, 26 नवंबर, 1949 को ही देश की संविधान सभा ने वर्तमान संविधान को विधिवत रूप से अपनाया था। हालांकि इसे 26 जनवरी, 1950 को लागू किया गया था।

उल्लेखनीय है, हर भारतीय नागरिक के लिए हर साल 26 नवंबर का दिन बेहद खास होता है। दरअसल यही वह दिन है जब देश की संविधान सभा ने मौजूदा संविधान को विधिवत रूप से अपनाया था। यह संविधान ही है जो हमें एक आजाद देश का आजाद नागरिक की भावना का अहसास कराता है। जहां संविधान के दिए मौलिक अधिकार हमारी ढाल बनकर हमें हमारा हक दिलाते हैं, वहीं इसमें दिए मौलिक कर्तव्य में हमें हमारी जिम्मेदारियां भी याद दिलाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!