चमोली की कप्तान की सख्त हिदायत, पीड़ित महिलाओं की सहायता में देरी बर्दाश्त नहीं होगी

Spread the love

–उत्तराखंड हिमालय ब्यूरो —
गोपेश्वर, 3 सितंबर। पुलिस अधीक्षक चमोली श्वेता चौबे ने शनिवार को मासिक अपराध गोष्ठी में अपराधों की समीक्षा कर अधिनस्थों को महत्वपूर्ण दिशा निर्देश दिए गए।


शनिवार को पुलिस अधीक्षक चमोली श्रीमती श्वेता चौबे द्वारा पुलिस लाईन सभागार में समस्त थाना प्रभारियों, स्था.अभि.इकाई, फायर सर्विस, दूरसंचार एवं अन्य शाखा प्रभारियों के साथ मासिक अपराध समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में एसपी द्वारा उपस्थित सभी अधिकारी एवं कर्मचारियों का सम्मेलन लेकर समस्याएं सुनी गई एवं उनके निस्तारण हेतु सम्बन्धित को निर्देशित किया गया। तदुपरान्त विगत माह में उत्कृष्ट कार्य करने पर चार पुलिसकर्मियों क्रमश: -उप निरीक्षक नवनीत भंडारी (प्रभारी एसओजी), उप निरीक्षक विनोद सिंह (थाना जोशीमठ), आरक्षी विकास (थाना जोशीमठ) और आरक्षी रविकांत (एसओजी) को ‘POLICE MAN OF THE MONTH’ घोषित कर प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।


गोष्ठी के दौरान पुलिस अधीक्षक द्वारा उपस्थित सभी समस्त थाना/शाखा प्रभारियों को दिशा-निर्देश दिये गये कि पीड़ित महिलाओं को अविलम्ब न्याय दिलाया जाए। उन्होंने बताया कि वर्ष 2021-2022 में थानों में पंजीकृत महिला सम्बन्धित अभियोगों-376 क से ड़ तक , 326 क, 509,304 ख, 354 क से घ तक, 498 ए एवं 326 ए आदि में पीड़ित/उत्तरजीवी महिलाओं हेतु प्रतिकर योजना के तहत प्रथम सूचना रिपोर्ट पंजीकृत होते ही तत्काल सॉफ्ट अथवा हार्ड कॉपी के माध्यम से जिला विधिक सेवा प्राधिकरण/राज्य विधिक सेवा प्राधीकरण को भेजे जाने की कार्यवाही अविलम्ब पूरी करें ताकि पीड़त महिलाओं को सहायता धनराशि समय से प्राप्त हो सके।

◆ *शिकायतों का हो शीघ्र निस्तारणः-*
उन्होंने निर्देश दिए कि थाने पर प्राप्त जन शिकायतों एवं लम्बित प्रार्थना पत्रों पर प्राथमिकता के आधार पर कार्यवाही करने व शीघ्र निस्तारण किया जाए। महिलाओं की सहायता हेतु महिला हैल्प डैस्क को और अधिक संवेदनशील बनाया जाए जिससे पीड़ित महिलाएं बिना किसी संकोच के अपनी शिकायत दर्ज कर सकें एवं कानूनी सहायता प्राप्त कर सकें।

◆ *112 पर आने वाली शिकायतों के निस्तारण में ना हो देरी-*
श्रीमती श्वेता चौबे ने सभी थाना प्रभारियों 112 एमडीटी की पूर्ण प्रक्रिया (एक्सेप्ट/एनरुट/रीच्ड/क्लोज) की जानकारी देकर निर्देशित किया गया कि सभी अपने थाने के वाहन/ हिल पेट्रोलिंग यूनिट एवं हाइवे पेट्रोल वाहनों में लगे डायल 112 की एमडीटी को ऑन रखेंगे एवं मिलने वाली शिकायत पर कम से कम समय में पूर्ण प्रक्रिया (एक्सेप्ट/एनरुट/रीच्ड/क्लोज) के साथ कार्यवाही सुनिश्चित करने को कहा।

◆ *उत्तराखण्ड पुलिस एप का आमजनमानस को मिल सके अधिक से अधिक लाभ*- प्रस्तुतीकरण के माध्यम से गोष्ठी में उपस्थित सभी थाना/शाखा प्रभारियों को उत्तराखण्ड पुलिस एप का प्रशिक्षण देकर अपने अधीनस्थ सभी पुलिसकर्मियों को उक्त एप की जानकारी देकर थानों पर उत्तराखण्ड पुलिस एप के पोर्टल पर लॉगिन कर डैशबोर्ड को निरन्तर अपडेट रखने के सम्बन्ध में प्रशिक्षित करने एवं एप का आमजनमानस में अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार करने हेतु निर्देशित किया गया, ताकि अधिकतम लोग इस एप के माध्यम से अपनी शिकायतें/ सुझाव पुलिस तक पहुँचा सकें।

◆ *सत्यापन में कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी*- सभी थाना प्रभारियों को अपने-अपने थाना क्षेत्र में बाहरी व्यक्तियों, फड़-फेरी वालों, मजदूरों, किराएदारों विशेष रुप से नेपाली मूल के व्यक्तियों के अधिक से अधिक सत्यापन की कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए।
उन्होंने कहा कि न्यायालय से जारी गैर जमानतीय वारण्टों की समय से तामील कर अधिक से अधिक वारण्टियों की गिरफ्तारी करने, विवेचनाधीन/लम्बित अभियोगों का अतिशीघ्र निस्तारण करें
जनपद के समस्त थानों पर माल मुकदमाती, लावारिस वाहनों के अभियान के अन्तर्गत अधिक से अधिक कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया।
एसपी द्वारा जनपद में प्रदेश स्तर पर चलाए जा रहे अभियान ऑपरेशन मुक्ति की समीक्षा करते हुए अभियान की सफलता हेतु गठित टीम को दिशा-निर्देश दिए गए। नशा तस्करों/नशे का कारोबार करने वालों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही करने एवं आम जनमानस को नशे के दुष्प्रभावों के प्रति अधिक से अधिक जागरुक करने हेतु सभी थाना प्रभारियों एवं जनपद स्तर पर गठित एडीटीएफ टीम प्रभारी को निर्देशित किया गया।
सोशल मीडिया सैल को जनपद में सोशल मीडिया पर निरन्तर कड़ी निगरानी रखने तथा अफवाह फैला कर साम्प्रदायिक सौहार्द प्रभावित करने वालों के विरुद्ध कठोर वैधानिक कार्यवाही हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए।
इस अवसर पर पुलिस उपाधीक्षक कर्णप्रयाग अमित कुमार, पुलिस उपाधीक्षक दिनेश बुटोला, प्रतिसार निरीक्षक रविकांत सेमवाल, निरीक्षक अभिसूचना सचिन चौहान, निरीक्षक रेडियो जितेन्द्र भंडारी व अन्य अधिकारी/कर्मचारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!