धर्म/संस्कृति

गौचर में आयोजित श्रीमद्भागवत महापुराण कथा के श्रवण के लिए जुट रही भारी भीड़

गौचर, 27 फ़रवरी (गुसाईं)। गौचर में आयोजित श्रीमद्भागवत महापुराण कथा के चौथे दिन श्रोताओं की भारी भीड़ जुटी रही। इस अवसर पर कथा वाचक चंद्र शेखर तिवारी ने कहा कि इस प्रकार की धार्मिक कथाओं के श्रवण से ही जन्म जन्मांतर का उद्धार हो जाता है।

पालिका क्षेत्र के शैल गांव निवासी सोहनलाल शैली, राजेंद्र प्रसाद शैली द्वारा अपनी बहिन स्वर्गीय कमला सती की मोक्ष प्राप्ति के लिए आयोजित श्रीमद्भागवत कथा में कथा वाचक चंद्र शेखर तिवारी ने कथा के महात्म्य को समझाते हुए कहा कि इस प्रकार की धार्मिक कथाओं का श्रवण करने से जन्म जन्मांतर का उद्धार हो जाता है। उनका कहना था कि संतों के सत्संग से सारे दोषों का निवारण हो जाता है। भगवान श्रीकृष्ण की लीला का वर्णन, भक्ति, ज्ञान व वैराग्य भी श्रीमद्भागवत में मिलता है। 24 फरवरी को पूजा अर्चना के बाद श्रीमद्भागवत कथा का आयोजन शुरू किया गया था।

मंगलवार को कथा वाचक चंद्र शेखर तिवारी ने श्रीमद्भागवत कथा के महात्म्य को बताते हुए कहा कि इस प्रकार की धार्मिक कथाओं को सुनने मात्र से ही दुखों का निवारण हो जाता है। इस अवसर पर मृतक कमला सती के देवर लोकानंद सती के अलावा राकेश शैली, महादेव बहुगुणा आदि तमाम लोगों ने कथा श्रवण कर पुण्य लाभ अर्जित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!