रोजगार के मुद्दे पर उत्तराखंड विधानसभा में सरकार घिरी

Spread the love

.देहरादून, 10 दिसम्बर (uh). उत्तराखंड विधानसभा के अंतिम सत्र के दूसरे दिन शुक्रवार  को सरकार रोजगार के आकडों को लेकर फंस गई. सत्ता पक्ष की  ओर से संतोषजनक उत्तर न मिलने पर कॉंग्रेस सदस्यों ने  सदन से  वॉक आउट किया.

प्रश्न काल के दौरान श्रम मंत्री हरक सिंह रावत ने एक प्रश्न के जवाब में कहा कि इस सरकार के कार्यकाल में अब 7 लाख बेरोजगारों को रोजगार दिया गया. इस  पर प्रतिपक्ष के नेता प्रीतम सिंह और  कॉंग्रेस सदस्य काजी निजामुद्दीन ने सत्तापक्ष पर गलत आकड़े बाजी करने का आरोप लगाया और कहा कि सरकार ने वर्ष 2020 में 10 लाख लोगों को रोजगार देने का दावा किया था. और अब एक साल बाद सदन को 7 लाख लोगों को रोजगार देने का दावा सदन के समक्ष किया जा रहा है. कॉंग्रेस सदस्यों ने  कहा कि एक  साल बाद रोजगार देने का आकड़ा बढ़ने के बजाय घट कैसे गया.

प्रतिपक्ष के नेता का कहना था कि या तो सरकार ने सदन में 2020 में झूठ बोला या अब गलत आकड़े दे कर सदन और प्रदेश की जनता को गुमराह कर रही है. इस मुद्दे को लेकर पक्ष और प्रतिपक्ष में काफी देर तक नौक झोंक हुयी.  अंत में सरकारी पक्ष से संतोषजनक उत्तर न मिलने पर कॉंग्रेस सदस्यों ने सदन से वॉक आउट किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!