विज्ञान और टेक्नोलॉजी की शक्ति सेदेश आत्मनिर्भरता की ओर अग्रसर: लोक सभा अध्यक

Spread the love

Addressing the students on the occasion, Shri Birla said that thousands of students who have
graduated from IIT Roorkee have made their mark in the entire world on the strength of their talent, wisdom, and skills and have worked to bring socio-economic change in the nation. Shri Birlaexpressed happiness that students of IIT Roorkee have brought laurels to India on the world stage.

उत्तराखंड हिमालय ब्यूरो

रूड़की, 25  नवंबर । लोक सभा अध्यक्ष  ओम बिरला ने आज आईआईटी रुड़की के 175वेंस्थापना दिवस को सम्बोधित किया। इस अवसर पर सभी विद्यार्थियों को बधाई देतेहुए श्री बिरला नेकहा कि IIT रुड़की सेपढ़कर निकलेहजारों विद्यार्थियों ने सम्पूर्ण विश्व मेंअपनी प्रतिभा के बल पर पहचान बनाई हैतथा अपनेज्ञान और कौशल सेदेश मेंआर्थिक-सामाजिक परिवर्तन लाने का काम किया है। श्री बिरला ने हर्ष व्यक्त किया की IIT रुड़की के छात्रों ने विश्व पटल पर भारत का नाम रौशन किया है।


आईआईटी को प्रौद्योगिकी के क्षेत्र मेंदेश का शीर्षसंस्थान बतातेहुए  बिरला नेकहा कि जलवायु, पर्यावरण, मेडिकल, शिक्षा, संचार, सड़क सेलेकर जीवन के कई क्षेत्रों IIT के अनुसंधान व आविष्कारों नेदेश और समाज को नई दिशा दी है। चौथी औद्योगिक क्रांति का उल्लेख करतेहुए श्री बिरला नेकहा की डिजिटल युग और इं टरनेट क्रांति नेपूरेविश्व को बदल दिया है।

उन्होंनेआगेकहा कि डिजिटल युग मेंदेश का आम नागरिक अधिक सक्रियता सेलोकतंत्र मेंभागीदार बन रहा है। भारत की प्राचीनतम लोकतान्त्रिक व्यवस्था की प्रशंसा करतेहुए श्री बिरला नेकहा कि भारत का लोकतंत्र एवं विविधता देश की शक्ति है। उन्होंने आगे कहा कि आज़ादी के अमृत काल में IIT रुड़की नेदेश को प्रगति के पथ पर आगे बढ़ाने में बहुत बड़ा योगदान दिया है। गत सात दशकों मेंदेश द्वारा की गई प्रगति का उल्लेख करतेहुए श्री बिरला नेकहा कि भारत के वैज्ञानिक, चिकित्सक, व्यवसायी और युवा पूरेविश्व मेंभारत की पहचान बना रहे हैं।

उन्होंनेआगे कहा कि आज भारत की साख दुनिया में एक विश्वसनीय लोकतंत्र और उभरती अर्थव्यवस्था के रूप में स्थापित हुई है।
बिरला ने कहा कि 2047 में विकसित भारत के सपनेको पूरा करने में भारत की युवा पीढ़ी का सबसेबड़ा योगदान रहेगा। उन्होंने आगे कहा कि आज वैश्विक स्तर पर भी भारत के युवा नेतृत्व कर रहे हैं और नवाचार, नई तकनीक, एवं शोध के क्षेत्र में विश्व की सबसे जटिल समस्याओ ंके निवारण मेंअपना योगदान के रहे हैं।  बिरला ने हर्ष व्यक्त करतेहुए कहा कि युवा विद्यार्थी नए भारत की नयी तस्वीर बना रहेहै। उन्होंने विश्वास के साथ कहा की देश ने ठान लिया है कि भारत को हर क्षेत्र मेंअग्रणी बनाना है

कोरोना काल का उल्लेख करतेहुए  बिरला नेकहा कि वैश्विक महामारी के दौर मेंभारतीय युवाओ  ने सिद्ध कर दिया कि विज्ञान और तकनीक की शक्ति सेदेश आत्मनिर्भरता की ओर अग्रसर है। उन्होंनेप्रसन्ता व्यक्त की कि आज के युग मेंहर क्षेत्र मेंभारत एक ग्लोबल डेस्टिनेशन के रूप में उभरा है। उन्होंनेकहा कि भारत आज सम्पूर्णविश्व में स्टार्टअप के केंद्र के रूप में जाना जाता है, जो वैश्विक चुनौतियों के साथ साथ देश की अर्थव्यवस्था को भी आगे बढ़ा रहे हैं। श्री बिरला ने भारत के युवा वर्ग की कार्य कुशलता पर विश्वास व्यक्त करते हुए कहा कि विश्व का अगला ‘बिग टेक’ भारत से निकलेगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!