मनोज रावत लोगों को नेता नही बल्कि अपना भाई लगता है

Spread the love

–महिपाल कुंवर

केदारनाथ विधानसभा में एक गाँव है सारी।सारी गाँव में रामेश्वरी भट्ट रहती है।रामेश्वरी भट्ट ने पिछली बार मनोज रावत को वोट नही किया।जानती भी नही थी।लेकिन जब आप समाजसेवा में आते है तो फिर आप ये नही देखते कि हम किसके मदद करे या किसकी मदद ना करे।मुझे गर्व है कि मैं मनोज भाई के साथ जुड़ा हूं।जिन्होंने कभी पार्टी देखकर ना तो विकास कार्यों के लिए धनराशि दी और ना ही कार्यकर्ता देखकर।सारी गाँव की रामेश्वरी भट्ट कहती है कि वे खुद मनोज रावत को नही जानती थी लेकिन जब उनकी बेटी पर विपदा आई तो खुद मनोज भाई ने फोन कर उनकी मदद की।आंखों में आँशु और रुआँसे गले से वो मनोज रावत को धन्यवाद करती है और कहती है कि अब उन्हें वे विधायक या नेता नही बल्कि अपना भाई लगता है।रामेश्वरी देवी कहती है कि मनोज रावत का स्वभाव काफी सरल है और पिछले 5 सालों में उन्होंने सभी के लिए विकास कार्य किये है।रामेश्वरी देवी सभी से अपील करती है कि इस बार मनोज रावत को विजयी बनाकर विधानसभा भेज दें।

https://www.facebook.com/manoj4kedar/videos/5100056500018681

रामेश्वरी देवी कहती है कि महिलाओं के मांगल गीतों का जो मेला आयोजित किया उससे महिलाओ की प्रतिभा उभरकर सामने आई।वे खुद गाँव में ही गाती थी।लेकिन अब उनके सहयोग वे इतना आगे बढ़ पाई।मनोज रावत ने उनकी प्रतिभा को पहचान कर उसे आगे बढ़ाने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।रामेश्वरी भट्ट अब जागर और मांगल गीतों की पहचान बन गई है दूरदर्शन और आकाशवाणी में उन्हें बी हाई कैटेगरी हासिल है।अब सोचना हूं कि काश ऐसे विधायक हर विधानसभा में  जनता को मिले।

इस बार केदारनाथ से कई प्रत्याशी मैदान में है लेकिन आप सबको ये सोचना है कि कैसे विधायक विधानसभा में  भेजना है।

https://www.facebook.com/manoj4kedar/videos/5100056500018681

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!