एनसीसी के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल गुरबीरपाल सिंह ने एनसीसी गणतंत्र दिवस शिविर-2022 का उद्घाटन किया

Spread the love

नयी दिल्ली, 6   जनवरी  (उ हि )।  राष्ट्रीय कैडेट कोर के महानिदेशक (डीजी एनसीसी) लेफ्टिनेंट जनरल गुरबीरपाल सिंह ने  दिल्ली कैंट में औपचारिक रूप से एनसीसी गणतंत्र दिवस शिविर-2022 का उद्घाटन किया। उद्घाटन समारोह ‘सर्व धर्म पूजा’ के साथ शुरू हुआ ।

गणतंत्र दिवस शिविर एनसीसी कैडेटों के प्रशिक्षण का एक वर्ष पूरा होने पर आयोजित किया जाता है और हर साल 1 से 29 जनवरी तक परेड ग्राउंड, दिल्ली छावनी में आयोजित किया जाता है। शिविर में लगभग 2,200 कैडेट भाग लेते हैं, जो विशेष रूप से पूरे भारत से चुने गए होते हैं। महीने भर चलने वाले शिविर के दौरान प्रशिक्षण, सांस्कृतिक प्रतियोगिताओं और राष्ट्रीय एकता जागरूकता कार्यक्रमों में अंतर निदेशालय प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती हैं। एनसीसी की दो मार्चिंग टुकड़ियां हर साल 26 जनवरी को राजपथ पर गणतंत्र दिवस परेड में भाग लेती है। भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में इस साल के गणतंत्र दिवस शिविर का थीम ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ है।

गणतंत्र दिवस शिविर का संचालन पूर्ण कोविड-19 प्रोटोकॉल के साथ किया जा रहा है, जिसमें कुल संख्या कम- 1,600 कैडेट हैं इनमें सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को कवर करने वाले 17 राज्य निदेशालयों से 560 कैडेट लड़कियां हैं। शिविर का समापन 28 जनवरी, 2022 को प्रधानमंत्री की रैली के साथ होगा।

इस अवसर पर बोलते हुए लेफ्टिनेंट जनरल गुरबीरपाल सिंह ने कैडेट्स का स्वागत किया और उन्हें एनसीसी के सबसे प्रतिष्ठित शिविर के लिए चुने जाने पर बधाई दी। उन्होंने कैडेट्स को सलाह दी कि वे अपने प्रवास के दौरान क्षेत्र, भाषा, जाति और पंथ की बाधाओं को अलग रखते हुए चरित्र, परिपक्वता और निस्वार्थ सेवा के साथ-साथ अनुशासन और आचरण के उच्चतम मानकों को प्रदर्शित करें।

एनसीसी के महानिदेशक ने कैडेट्स को शिविर में पूरे दिल से भाग लेने और महीने भर चलने वाले शिविर के दौरान प्रत्येक गतिविधि से अधिकतम लाभ प्राप्त करने के लिए कहा, जबकि साथ ही सही कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करने के लिए भी कहा। उन्होंने आगे कहा कि शिविर का उद्देश्य कैडेट्स के आत्मविश्वास को बढ़ाना, उनकी मूल्य परंपराओं को गहरा करना और राष्ट्र की समृद्ध संस्कृति और परंपराओं के बारे में जानकारी प्रदान करना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!