सफलता की कहानी: एनएसआईसी के प्रशिक्षण कार्यक्रम ने सुजाता को आत्मनिर्भर बनाया

Spread the love

नयी दिल्ली, 23   अप्रैल (उहि ) ।सुश्री सुजाता हिमाचल प्रदेश के मंडी की रहने वाली हैं। सुजाता ने सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय में एनएसआईसी के ट्रेनिंग सेंटर से 1 वर्ष के लिए फैशन डिजाइनिंग का प्रशिक्षण प्राप्त किया और इस दौरान कटिंग, टेलरिंग तथा सिलाई से संबंधित अन्य सभी तकनीकों को सीखा है।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/frame_0_delay-0.01sQ52O.jpg

इस प्रशिक्षण के बाद उन्होंने शालू बुटीक नाम से अपना खुद का वस्त्रालय खोला और प्रति माह 10,000 रुपए तक की आमदनी करने लगीं।

उनका कहना है कि, ”मैंने अपना फैशन डिजाइनिंग कोर्स एनएसआईसी के प्रशिक्षण केंद्र से पूरा किया है, जिससे मुझे बहुत लाभ हुआ है। एनएसआईसी प्रशिक्षण केंद्र में उम्दा किस्म की सुसज्जित सिलाई सुविधाएं उपलब्ध हैं, जिनसे मुझे बेहतर तरीके से काम करने में सहायता मिली है। मैं अब हर प्रकार के डिजाइनर सूट सिलने में सक्षम हूं। सुजाता ने कहा कि मैं प्रति माह 10,000 रुपये कमाती हूं और मुझे आत्मनिर्भर बनाने के लिए मैं एनएसआईसी की बेहद आभारी हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!