चमोली के थराली क्षेत्र के पैनगढ़ गांव में भूस्खलन त्रासदी: मलबे में 4 शव निकल गये, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी: प्रशासन की लापरवाही का नतीजा है यह हादसा See video

Spread the love

थराली से हरेंद्र बिष्ट

चमोली के थराली विकासखंड के अंतर्गत भूस्खलन प्रभावित पैनगढ़ गांव में बे बरसात हुए भूस्खलन के कारण क्षतिग्रस्त मकान में दबने से मृतकों की संख्या 4 हो गई हैं। जबकि एक गंभीर युवक को उपचार के लिए हाइसेंटर रेफर कर दिया गया हैं।अभी भी तहसील प्रशासन, एनडीआरएफ एवं स्थानी लोग मलबे को हटाने में जुटे हुए हैं।

मृतकों और एक घायल में बचुली देवी (75 वर्ष) पत्नी माल दत्त, सुनीता देवी (37) पत्नी घनानन्द, देवानन्द (57) पुत्र मालदत्त, घनानन्द (45) पुत्र मालदत्त एवं योगेश (15) पुत्र धननानन्द शामिल है।

इसके अलावा तीन परिवारों की मकानों पर भी मलुवा गिरने से मकाने क्षतिग्रस्त हो गई हैं। हालांकि इन में जनहानी नही हुई हैं।

मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार की देर रात 1.36 पर पैनगढ़ गांव में अचानक हुए भूस्खलन के कारण उसकी जद में देवानंद सती की मकान आ गया।मकान पूरी तरह ध्वस्थ हों गया। घटना की सूचना मिलते ही ग्रामीण राहत एवं बचाव कार्य में जुट गए और घटना की सूचना तहसील प्रशासन को दी गई। जिस पर देर रात ही प्रशासन की टीम घटनास्थल पर पहुंच गई थी।

बताया जा रहा है कि आज तड़के घटना स्थल पर ही बचुली देवी पत्नी माल दत्त उम्र 75 वर्ष की घटनास्थल पर ही शव निकाल लिया गया था। जबकि घायल 37 वर्षीय सुनीता देवी पत्नी घनानंद सती ने रस्ते में उपचार के लिए लेजाते समय दम तोड़ दिया।

मकान के अंदर दबे देवानंद 57 एवं घनानंद 45 के शवों को तहसील प्रशासन, एनडीआरएफ एवं स्थानीय ग्रामीणों ने जेसीबी सहित अन्य संसाधनों के सहयोग से कड़ी मशक्कत के बाद सुबह 8 बजें के करीब शवों को निकाल पाएं।

जबकि घायल 15 वर्षीय योगेश पुत्र घनानंद को सीएचसी थराली में प्राथमिक उपचार के बाद हाईसेंटर रेफर कर दिया गया हैं।इस घटना से

जहां भूस्खलन पीड़ित गांव में दहशियत छा गई हैं।वही पूरे क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!