वन महोत्सव के तहत देवाल के घेस गांव में देवदार का वृक्षारोपण

Spread the love

थराली से हरेंद्र बिष्ट

वन महोत्सव के तहत देवाल विकासखंड के दुरस्त गांव घेस में वृहद रूप से देवदार के पौधों का रोपण कर उसके संरक्षण का संकल्प लिया। इस मौके पर वक्ताओं ने प्राकृतिक सौंदर्य को बढ़ाने एवं पर्यावरण संरक्षण के लिए पौधों का रोपण बेहद जरूरी हैं।

घेस निवासी वरिष्ठ पत्रकार अर्जुन बिष्ट की पहल पर अलकनंदा भूमि वन रेंज थराली के रेंजर रविंद्र निराले के सहयोग से घेस गांव के वृक्ष विहीन भूमि पर बद्रीनाथ वन प्रभाग गोपेश्वर के पूर्व पिंडर रेंज देवाल के डिप्टी रेंजर राजेंद्र सिंह बिष्ट, सेवानिवृत्त डिप्टी रेंजर त्रिलोक सिंह बिष्ट के निर्देश पर वृहद रूप से देवदार के पौधों का रोपण करते हुए रोपित पौधों को विकसित करने का संकल्प लिया।इस मौके पर सेवानिवृत्त डिप्टी रेंजर त्रिलोक सिंह बिष्ट ने कहा कि घेस घाटी का प्राकृतिक सौंदर्य पहले से ही काफी अधिक सुंदर हैं।

बेहद उपयोगी एवं सदाबहार पेड़ देवदार के पौधों का रोपण किया जाने से क्षेत्र की सुंदरता में और भी निखार तों आएगा ही साथ ही पर्यावरण संरक्षण को भी बल मिलेगा।इस अवसर पर देवदार के पौधों का रोपण करने की पहल करने वाले पत्रकार अर्जुन बिष्ट ने कहा कि अगर वास्तव में घेस घाटी को पर्यटन के क्षेत्र में विकसित करना हैं, तो सदाबहार एवं पर्यावरण को संरक्षित करने के लिए देवदार जैसे प्रजाति के पौधों का रोपण करना बेहद जरूरी हैं। इसके लिए सभी ग्रामीणों को प्रयास करना होगा। इस मौके पर उन्होंने देवदार के पौधे निशुल्क ग्रामीणों को उपलब्ध करवाने के लिए अलकनंदा वन रेंज थराली का आभार व्यक्त किया।इस मौके पर घेस की ग्राम प्रधान कलावती देवी, पूर्व क्षेत्र पंचायत सदस्य कलम सिंह पटाकी, अलकनंदा के वन रक्षक कुंदन सिंह नेगी, दीपक बिष्ट बद्रीनाथ देवाल रेंज के वन दरोगा बलवीर बिष्ट, ग्रामीण दीपक बिष्ट,धन सिंह भंडारी,मान सिंह बिष्ट, पुष्कर सिंह, सोड़िग के राकेश बिष्ट रणजीत परिहार सहित कई अन्य ने वृक्षारोपण में भाग लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!