टीएमयू में होगी रिसेंट ट्रेंड्स पर दो दिनी नेशनल कॉन्फ्रेंस

Spread the love

खास बातें

  • आठ राज्यों यूपी, एमपी, बिहार, राजस्थान, महाराष्ट्र, दिल्ली, कर्नाटक, हरियाणा के शोधार्थी पढ़ेंगे कुल 68 शोधपत्र
  • दो दिनी इस कॉन्फ्रेंस में उद्घाटन भाषण देंगे टीएमयू के कुलपति प्रो. रघुवीर सिंह
  • मुरादाबाद महानगर के मुख्य अभियंता श्री एके मित्तल होंगे मुख्य अतिथि
  • गेस्ट ऑफ ऑनर होंगे भारतीय मानक ब्यूरो, नई दिल्ली के उप महानिदेशक श्री संजय पंत
  • आईआईटी, एनआईटी समेत प्रतिष्ठित संगठनों के विशेषज्ञ करेंगे कॉन्फ्रेंस में चर्चा

    —प्रो. श्याम सुंदर भाटिया

तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी के फैकल्टी ऑफ इंजीनियरिंग एंड कम्प्यूटिंग साइंसेज-एफओईसीएस की ओर से रिसेंट ट्रेंड्स ऑन इन्नोवेशन्स इन सिविल एंड मेकैनिकल इंजीनियरिंग पर दो दिनी नेशनल कॉन्फ्रेंस होगी। कॉन्फ्रेंस ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों मोड में होगी। नेशनल कॉन्फ्रेंस में टीएमयू के कुलपति प्रो. रघुवीर सिंह उद्घाटन भाषण देंगे। कॉन्फ्रेंस के मुख्य अतिथि मुरादाबाद महानगर के मुख्य अभियंता श्री एके मित्तल रहेंगे, जबकि भारतीय मानक ब्यूरो, नई दिल्ली के महानिदेशक मानकीकरण-द्वितीय एजीएम-क्यूसी इंजीनियर श्री संजय पंत बतौर विशिष्ट अतिथि शामिल होंगे। टीएमयू के रजिस्ट्रार डॉ. आदित्य शर्मा और टीएमयू की एसोसिएट डीन एकेडेमिक्स प्रो.मंजुला जैन भी कॉन्फ्रेंस को संबोधित करेंगी। एफओईसीएस के निदेशक प्रो. आरके द्विवेदी स्वागत भाषण और कॉन्फ्रेंस की थीम प्रस्तुत करेंगे। इस अवसर पर कॉन्फ्रेंस प्रोसीडिंग का विमोचन भी किया जाएगा। कॉन्फ्रेंस के कन्वीनर और एफओईसीएस के एचओडी सिविल इंजीनियरिंग विभाग  प्रो. आरके जैन बताया, कॉन्फ्रेंस के अंत में सभी प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र भी प्रदान किए जाएंगे।

कॉन्फ्रेंस में एनआईटी रायपुर, छत्तीसगढ़ के रजिस्ट्रार डॉ. आरिफ खान, महाराष्ट्र मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड, नागपुर के अतिरिक्त महाप्रबंधक-एजीएम क्यूसी डॉ. केसी तायडे, दिल्ली तकनीकी विश्वविद्यालय- डीटीयू, के मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग के डीन प्रो. आर. एस मिश्रा, टेक्निकल अल्ट्रा टेक सीमेंट्स लिमिटेड के नेशनल हेड श्री राजीव कुमार, आईसीआई गाजियाबाद के अध्यक्ष और सीएसआईआर के वरिष्ठ वैज्ञानिक जी.के. साहू, एनआईटी कुरुक्षेत्र की प्रोफेसर डॉ. प्रतिभा अग्रवाल, एनआईटी कुरुक्षेत्र के प्रोफेसर डॉ. योगेश अग्रवाल, एनआईटी दिल्ली के निदेशक प्रो. डॉ. प्रवीण कुमार, एमएनआईटी प्रयागराज के प्रोफेसर डॉ. राकेश कुमार, वीएनआईटी नागपुर के प्रोफेसर एंड हेड डॉ. एलएम गुप्ता मुख्य वक्ता के रूप में शिरकत करेंगे।

कॉन्फ्रेंस में तकनीकी ट्रैक सत्र के दौरान यूपी, एमपी, बिहार, राजस्थान, महाराष्ट्र, दिल्ली, कर्नाटक, हरियाणा के कुल 68 से अधिक शोधार्थियों द्वारा आईसी इंजन और वैकल्पिक ईंधन, समग्र और स्मार्ट सामग्री, यांत्रिक कंपन, अनुकूलन, द्रव यांत्रिकी और द्रव गतिकी, थर्मल इंजीनियरिंग, नवीकरणीय ऊर्जा, उन्नत विनिर्माण प्रणालीध्प्रक्रियाएं, सीएडी,सीएएम, ऑटोमेशन और रोबोटिक्स, आपूर्ति श्रृंखला प्रबंधन, लोजीस्टिक आउटसोर्सिंग, समवर्ती इंजीनियरिंग, विनिर्माण तकनीक, मृदा यांत्रिकी और भूमि सुधार, स्ट्रक्चरल इंजीनियरिंग में प्रगति, अभिनव कंक्रीट और स्मार्ट सामग्री, परिवहन और राजमार्ग इंजीनियरिंग, संरचनाओं की स्वास्थ्य निगरानी, हरित प्रौद्योगिकी,  भवन अवसंरचना ऊर्जा, कुशल भवन, पर्यावरण और प्रदूषण नियंत्रण, रिमोट सेंसिंग और जीआईएस, निर्माण में अपशिष्ट पदार्थों का उपयोग, संरचनात्मक डिजाइन में मॉडलिंग तकनीक इत्यादि विषयों पर शोध पत्र पढ़े जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!