पतंजलि विश्वविद्यालय में ’वैदिक विज्ञान’ पर पुनश्चर्या कार्यक्रम रिफ्रेशर कोर्स

Spread the love

हरिद्वार 17 जून। पतंजलि विश्वविद्यालय ’वैदिक विज्ञान’ पर पुनश्चर्या कार्यक्रम रिफ्रेशर कोर्स का आयोजन करने जा रहा है जोकि 19 जून से आरम्भ होकर 2 जुलाई  तक चलेगा । इसमें आईआईटी रूड़की, देव संस्कृति विश्वविद्यालय, गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय, उत्तराखण्ड आयुर्वेद विश्वविद्यालय, पतंजलि आयुर्वेद कालेज, भारतीय शिक्षा बोर्ड, सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय इत्यादि के कुलपति प्रति कुलपति संकायाध्यक्ष रजिस्ट्रार एवम् वरिष्ठ आचार्य गण अपने विषयों पर व्याखयान करके  सहभागी शिक्षकों का ज्ञानवर्धन करेंगे।

वैदिक विज्ञान पर आधारित इस कार्यक्रम से शिक्षकों के पठन.पाठन के विकास एवं उनके पढ़ाने की गुणवत्ता को निखारना  प्रमुख उद्देश्य रहेगा। पतंजलि विश्वविद्यालय  में शिक्षा एवं अनुसंधान के क्षेत्र में नित नवीन प्रयोग होते रहते हैं। स्वामी जी का संकल्प है कि अपने देश की शिक्षा व्यवस्था उसकी पद्धति वैदिक के साथ.साथ आधुनिकता से युक्त हो। वरिष्ठ विद्वानों का एक समूह शिक्षा के आधुनिकीकरण की दिशा में यश अनवरत अपना योगदान प्रदान कर रहा है।
किसी भी उच्च शिक्षण संस्थानों में उस संस्थान के आचार्यों की विशेष भूमिका होती है। वह अपने विद्यार्थियों का निर्माण व विकास उसी तरह करते हैं जिस तरह एक कुम्हार पात्रों को आकार देता है। इन्हीं सभी उद्देश्यों की पूर्ति हेतु ऐसी कार्यशालाओं का आयोजन किया जाता है जहाँ पर नये शिक्षक अनुभवी वरिष्ठ आचार्योे से नूतन ज्ञान प्राप्त करते है।उनके मार्गदर्शन से अपने शिक्षक जीवन का विकास करते हैं।
पतंजलि विश्वविद्यालय में आयोजित होने वाले रिफ्रेशर कोर्स में निम्न विषयों पर व्याख्यान संपन्न होंगे. योग विज्ञान संस्कृत व्याकरण दर्शन मनोविज्ञान प्रबंध विज्ञान वेद विज्ञान शोध पद्धति आयुर्वेद संगीत इत्यादि।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!