उपलब्धियों भरा माना जा रहा है सैनिक बाहुल्य गांव सवाड़ का शहीदी मेला

Spread the love

–थराली/देवाल से हरेंद्र बिष्ट —

इह बार सैनिक बाहुल्य गांव सवाड़ में आयोजित 15 वॉ अमर शहीद सैनिक मेले को उपलब्धियों भरा माना जा रहा हैं। मेले में शिरकत करने पहुंचे प्रदेश के कृषि एवं सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी एवं थराली विधायक भूपाल राम टम्टा ने मंच से उद्घाटन मौके पर जिस आत्म विश्वास के साथ इस शिक्षा सत्र से सवाड़ में केंद्रीय विद्यालय की कक्षाओं को शुरू करने एवं मेले को राजकीय मेला घोषित करने की घोषणा की इसे काफी बढ़ी उपलब्ध माना जा रहा हैं।

देवाल ब्लाक के सवाड़ गांव राज्य के उन गिने-चुने गांव में सुमार हैं जहां पर आज भी करीब 80 प्रतिशत से अधिक परिवार सीधे सैना से जुड़े हैं। वर्तमान में ही सवाड़ गांव के करीब 120 सैनिक सेना में और 200 से अधिक सैनिक अर्द्धसैनिक बलों में तैनात हैं।

पिछले 2017 से तेजी के साथ सवाड़ गांव के ग्रामीण सवाड़ में केवी की स्थापना किए जाने एवं आयोजित हों रहे अमर शहीद सैनिक मेले को राजकीय मेला घोषित किए जाने की मांग उठाते आ रहें हैं।इस मांग को पिछले वर्ष देहरादून में निर्मित हों रहें सैनिक धाम ने निर्माण के लिए शहीदों के आंगनों से मिट्टी लेजाने के कार्यक्रम के पहले चरण का शुभारम्भ सवाड़ गांव से ही मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के पिछले मुख्यमंत्री के कार्यकाल में हुआ था।

इस अवसर पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट, राज्य के सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी सहित कई अन्य वरिष्ठ नेताओं के सामने सवाड़ के लोगों ने इन मांगों को प्रमुखता से उठाया था।उस समय भी आश्वासन तों मिला था। किन्तु आश्वासन में वह दम नहीं दिख रहा था।जिस तरह का दम बुधवार को शुरू हुएं 15 वें शहीद मेले के मंच से मंत्री जोशी एवं विधायक टम्टा ने घोषणा की। इससे सवाड़ के साथ ही पूरे देवाल ब्लाक में एक नए उत्साह का संचार हुआ हैं।माना जा रहा हैं कि क्षेत्रीय जनता की वर्षों पुरानी मांग परवान चढ़ सकती हैं।
———————-
पिछले लंबे समय से सवाड़ के ग्रामीणों के द्वारा सवाड़ में केवी की स्थापना एवं यहां पर आपसी सहयोग से 15 वें सम्पन्न हुआ अमर शहीद सैनिक मेले सवाड़ को राजकीय मेला घोषित किए जाने की मांग जायज मांग हैं।केवी स्थापित होने के बाद अच्छी शिक्षा घरों के नजदीक मिलने पर निश्चित ही इस क्षेत्र से पलायन रूकेगा। शहीद मेले से नई पीढ़ी में देश की रक्षा का जज्बा बढ़ेगा और सेना को बेहतरीन जांबाज मिलेंगे इन दोनों मांगों को पूरा करने के लिए वें पहले से ही प्रयासरत थें और आगे भी उनके गंभीर प्रयास जारी रहेंगे। आनेवाले कुछ महीनों में परिणाम सबके सामने होंगे।
भूपाल राम टम्टा
विधायक थराली
—————–
सवाड़ में केवी खोले जाने की 2017 से निरंतर मांग की जा रही हैं।केवी संगठन की मांग पर सवाड़ गांव में कक्षाओं के संचालन के लिए अस्थाई व्यवस्था के तहत बिजली, पानी, शौचालय आदि मूलभूत सुविधाओं के साथ करीब 30 लाख रुपए से अधिक की लागत के टिनशेड पिछले सालों तैयार हो चुके है। जबकि पिछले महिनों ग्रामीणों ने 103 नाली नाप भूमि राज्य सरकार के नाम केवी संगठन को देने के लिए रजिस्ट्री कर दी गई हैं।जिस तरह से सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी एवं थराली विधायक भूपाल राम टम्टा ने मेला मंच से केवी की स्थापना,मेले को राजकीय मेला घोषित किए जाने,मंत्री के द्वारा 1 लाख 51 हजार एवं विधायक टम्टा के द्वारा ढेड़ लाख रुपए मेले के लिए देने की जिस आत्म विश्वास के साथ घोषणा की गई हैं उससे लग रहा हैं कि महत्वपूर्ण दोनों मांगे आने वाले समय में पूरी हों जाएंगी।
आशा धपोला
सदस्य जिपं सवाड़ वार्ड/
आलम सिंह बिष्ट
अध्यक्ष मेला कमेटी सवाड़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!