वीर भूमि सवाड़ में आयोजित अमर शहीद सैनिक मेले का दूसरा दिन महिला मंगल दलों के नाम रहा

Spread the love

थराली/देवाल से हरेंद्र बिष्ट –

सैनिक बाहुल्य गांव सवाड़ में आयोजित 15 वें अमर शहीद सैनिक मेले का दुसरा दिन ब्लाक की महिला मंगल दलों के नाम रहा।इस दौरान महिलाओं ने एक से बढ़कर एक झोड़, चांचरी,चौफूला के साथ ही लोक गीत एवं नाटक प्रस्तुत किया।

इन कार्यक्रमों ने लोगों का मन मोह लिया।इस दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष रजनी भंडारी की ओर से प्रतिनिधि के रूप में जिपंस बबीता त्रिकोटी ने सवाड़ में शहीद द्वार निर्माण के लिए जिला पंचायत की ओर से 2.50 लाख रुपए दिए जाने की घोषणा की।

अमर शहीद मेले के दूसरे दिन चमोली जिला पंचायत अध्यक्ष रजनी भंडारी के प्रतिनिधि के रूप में थराली क्षेत्र की जिला पंचायत सदस्य बबिता त्रिकोटी ने बतौर मुख्य अतिथि शहीदों को शहीद स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित करते हुए मुख्य मंच पर रीबन काट कर मेले का उद्घाटन करते हुए सवाड़ गांव के साथ ही देश के शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए आयोजन की जमकर सराहना की।

उन्होंने कहा कि जिस तेजी के साथ मेला आगे बढ़ रहा हैं निश्चित ही आने वाले समय में इस मेले की गिनती राज्य के चुनिंदा मेलों के रूप में होगी। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि किन्ही जरूरी कामों से जिला पंचायत अध्यक्ष मेले में शिरकत नही कर पाई हैं। उन्होंने इस शहीद मेले में शहीद द्वार निर्माण के लिए ढाई लाख रुपए स्वीकृत किए जाने की घोषणा की है। इस मौके पर बतौर विशिष्ट अतिथि देवाल की जेष्ठ प्रमुख संगीत बिष्ट,जिला पंचायत सदस्य आशा धपोला,सुया की प्रधान रेखा देवी ने भी आयोजन की जमकर सराहना की।

इस अवसर पर महिला मंगल दलों के बीच विभिन्न प्रतियोगिताओं के रोचक मुकाबलों में रस्साकस्सी में ममंद ताजपुर ने पहला मौपाटा ने दूसरा एवं मंदोली ने तीसरा स्थान प्राप्त किया।

इसी तरह कुर्सी दौड़ में ममंद लौसरी,सुया व हरनी ने चम्मच दौड़ में हरनी,मंदौली व सवाड़ ने एवं लोक गीत में सुया,मौपाटा एवं मंदोली ने क्रमशः प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त किया।इन प्रतियोगिताओं में महिलाओं ने काफी बढ़ चढ़ कर हिस्सेदारी की।इस अवसर पर आयोजन कमेटी के अध्यक्ष आलम सिंह बिष्ट, प्रधान कंचना देवी,क्षेपंस दीक्षा मेहरा, ममंद अध्यक्ष बसंती देवी, डॉ दर्शन मेहरा, अध्यापक दर्शन धपोला, सुरेंद्र खत्री, प्रमोद धपोला,देव सिंह मेहरा, महावीर भंडारी,बलवंत भंडारी, त्रिलोक सिंह दानू,धन सिंह धपोला, नंदन खत्री, गोविंद बिष्ट आदि ने अतिथियों का स्वागत करते हुए मेले के इतिहास पर प्रकाश डाला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!