पर्यावरण दिवस पर चमोली के कई गांवों में जनजागरण और पौधरोपण कार्यक्रम होंगे

Spread the love

गोपेश्वर, 5जून (उहि)। पर्यावरण संरक्षण और वर्तमान स्थिति में पर्यावरण पुरस्कार के लिए आमजन को पर्यावरण के प्रति संबोधित करने तथा जलवायु परिवर्तन के कारणों की जानकारी सही रूबरू करने के लिए जनभागीदारी को बढ़ाना आवश्यक है अभी हम स्वच्छ एवं सुंदर वातावरण सुजीत कर बढ़ते प्रदूषण एवं जलवायु परिवर्तन के प्रभाव को रोक सकते हैं ।

यह बात ही मां समिति एवं नव ज्योति कल्याण संस्थान के संयुक्त तत्वाधान गोपेश्वर में आयोजित बैठक में हिमाद के सचिव उमाशंकर बिष्ट ने कही । उन्होंने कहा कि 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर संस्था द्वारा पर्यावरण संरक्षण की तकनीकों प्रभाव एवं पर्यावरण संवर्धन एवं सुधार के उद्देश्यों के समुदाय में जागरूकता, श्रमदान एवं पौधारोपण का कार्यक्रम जनपद के विभिन्न गांवों में संचालित होंगे। जिसके तहत सिरोली गांव संस्था समन्वय प्रभा रावत के द्वारा महिला संगठनों के साथ स्थानीय संसाधनों का आकलन एवं संरक्षण के लिए इकोलैब की स्थापना, टीम सदस्य पंकज पुरोहित एवं अनीता फर्स्वाण द्वारा कुंजो मैकोट में बच्चों के साथ बैठक एवं वृक्षारोपण, कंडारा में संस्था अध्यक्ष डॉ0 डी एम0 पुंण्डीर के माध्यम से जलवायु परिवर्तन के प्रभाव पर जन जागरूकता अभियान पुडियाणी गांव मै स्वच्छता प्रेरक लीला देवी द्वारा महिला स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से श्रमदान एवं गोष्टी कार्यक्रमों का आयोजन कर आमजन को संबोधित किया जाएगा।
इस अवसर पर नवज्योति महिला कल्याण संस्थान के लिए सचिव महानंद बिष्ट ने कहा कि 5 जून को बच्छेर, खल्ला, बमियाला गांव में संस्था द्वारा संचालित पुस्तकालय केंद्र के बच्चों और महिला संगठनों के सदस्यों के द्वारा प्राकृतिक जल स्रोतों का संरक्षण एवं श्रमदान पर्यावरण संरक्षण मैं समुदाय की भूमिका विषय पर वाद-विवाद निबंध एवं पेंटिंग प्रतियोगिता का आयोजन कर स्वच्छ वातावरण के लिए समुदाय को संदेश दिया जाएगा।
इस अवसर पर हिमाद की चाइल्ड लाइन समन्वयक प्रभा रावत ने कहा कि पर्यावरण के संरक्षण और संवर्धन में इकोलैब की भूमिका महत्वपूर्ण हो सकती है। जिससे कि हम मौसम की स्थितियों का आकलन करने में ग्रामीणों को सहायता प्रदान होगी तथा ठीक समय पर लोगों को मौसम में वर्षा की जानकारी प्राप्त होगी। जिसमें कि ग्रामीणों को पर्यावरण संरक्षण की नवीन तकनीकों की जानकारी भी प्राप्त होगी।
बैठक में अनिल सती, पंकज पुरोहित, सुमन नेगी, अनीता फर्स्वाण, भूपेंद्र गुसाई, विनोद मंगाई, हेमा देवी, राजेश्वरी देवी, पुष्कर लाल, संदीप चौहान, लीला देवी, काजल रावत, संतोषी बिष्ट, मनोज सिंह आदि ने विचार व्यक्त किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!