भारतीय वायु सेना और फ्रांसीसी वायु और अंतरिक्ष बल के साझा युद्धाभ्यास में शामिल दोनों सेनाओं के अत्याधुनिक लड़ाकू विमान

Spread the love

नयी दिल्ली, 2  नवंबर ।  भारतीय वायु सेना (आईएएफ) और फ्रांसीसी वायु और अंतरिक्ष बल (एफएएसएफ) 26 अक्टूबर से 12 नवंबर, 2022 तक जोधपुर वायु सेना स्टेशन पर ‘गरुड़ VIl’ नामक एक द्विपक्षीय अभ्यास में भाग ले रहे हैं।

इस अभ्यास में एफएएसएफ चार राफेल लड़ाकू विमान, एक A-330 मल्टी रोल टैंकर ट्रांसपोर्ट (एमआरटीटी) विमान और 220 कर्मियों की एक टुकड़ी के साथ भाग लेगा। भारतीय वायुसेना सू-30 एमकेआई, राफेल, एलसीए तेजस और जगुआर लड़ाकू विमानों के साथ-साथ लाइट कॉम्बैट हेलीकॉप्टर (एलसीएच) और एमआई-17 हेलीकॉप्टरों के साथ भाग ले रही है। भारतीय वायुसेना की टुकड़ी में फ्लाइट रिफ्यूलिंग एयरक्राफ्ट, एवाक्स और एईडब्ल्यू एंड सी जैसे लड़ाकू और सक्षम सैन्य साजोसामान भी शामिल होंगे। यह संयुक्त अभ्यास दोनों देशों को सर्वोत्तम प्रथाओं को साझा करने के साथ-साथ सैन्य अभियानगत क्षमता और अंतःक्रियाशीलता बढ़ाने के लिए एक मंच प्रदान करेगा।

यह द्विपक्षीय अभ्यास का सातवां संस्करण है। पहला, तीसरा और पांचवां संस्करण भारत में क्रमशः 2003, 2006 और 2014 में वायु सेना स्टेशनों ग्वालियर, कलाईकुंडा और जोधपुर में आयोजित किया गया था । दूसरा, चौथा और छठा संस्करण फ्रांस में 2005, 2010 और 2019 में आयोजित किया गया था।

इस अभ्यास में भारतीय वायुसेना और एफएएसएफ की भागीदारी दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने के अलावा पेशेवर बातचीत, अनुभवों के आदान-प्रदान और परिचालन संबंधी ज्ञान में वृद्धि को प्रोत्साहन देगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!