द्रौपदी का डांडा में एवलांच की चपेट में आये 29 में से 26 लोगों के शव बरामद

Spread the love

–उषा रावत —
उत्तरकाशी, 7 अक्टूबर। डोकरानी बामक ग्लेशियर के द्रोपदी डांडा में एवलांच की चपेट में आये नेहरू पर्वतारोहण संस्थान, उत्तरकाशी के 29 सदस्यीय प्रशिक्षण दल के 26 के शव बरामद कर लिये गये हैं और तीन की खोज जारी है। इनमें से उत्तरकाशी लाये गये 4 शवों की शिनाख्त कर ली गयी है जिनमें से एक होनहार पर्वतारोही और प्रशिक्षक सविता कंसवाल भी हैं।


राज्य आपतकालीन परिचालन केन्द्र से जारी विज्ञप्ति के अनुसार दिनांक 04 अक्टूबर, 2022 को नेहरू पर्वतारोहण संस्थान, उत्तरकाशी द्वारा उत्तरकाशी जनपद के डोकरानी बामक हिमनद में संचालित एडवान्स पर्वतारोहण कोर्स के 29 प्रतिभागी द्रौपदी का डांडा-2 (5670 मी0) के आरोहण के समय हिम-स्खलन की चपेट में आ जाने के कारण समुद्र तल से लगभग 5200 मीटर ऊपर हिमनद में स्थित दरारों में फस गये थे।
घटना की जानकारी मिलते ही भारतीय वायु सेना, थल सेना व भारत तिब्बत सीमा पुलिस के साथ ही गुलमर्ग, कश्मीर स्थित सेना के Warfare  स्कूल (HAWS) का सहयोग लिया गया तथा राज्य आपदा प्रतिवादन बल के खोज एवं बचाव दल को प्रभावित क्षेत्र में भेजा गया।

Savita Kanswal, the first Indian woman to scale Mount Everest and Mount Makalu in a span of 16 days, lost her life in an avalanche in Uttarakhand’s Uttarkashi hills on Tuesday, 4 October.

आज दिनांक 7 अक्टूबर, 2022 को बचाव दलों के द्वारा 29 लापता व्यक्तियों में से 26 के शव बरामद कर लिये गये हैं और वर्तमान में केवल 03 व्यक्ति ही लापता हैं। आज 26 प्राप्त शवों में 04 को उत्तरकाशी लाया गया। जिनकी पहचान निम्नवत् हैः

1. सुश्री सविता कंसवाल (प्रशिक्षक), पुत्री श्री राधेश्याम कंसवाल, ग्राम-लुंथरू, तहसील भटवाड़ी उत्तरकाशी।
2. सुश्री नौमी रावत (प्रशिक्षक), पुत्री श्री अवतार सिंह, ग्राम-भुक्की तहसील-भटवाड़ी उत्तरकाशी।
3. श्री शिवम कैंथुला (प्रशिक्षु), पुत्र श्री संतोष कैंथुला निवासी-नारकंडा, कुमारसैन, हिमाचल प्रदेश।
4. श्री अजय बिष्ट (प्रशिक्षु), पुत्र श्री डी.एस. बिष्ट, म.नं. 16, निकट गोपालधारा, धारानौला जनपद अल्मोड़ा उत्तराखण्ड।

उपरोक्त व्यक्तियों के शवों को अंतिम संस्कार हेतु उनके परिजनों को सौंपा जा चुका है। अन्य व्यक्तियों की पहचान नहीं की जा सकी है।

आज दोपहर बाद मौसम खराब होने के कारण हेलीकॉप्टर प्रचालन बाधित हो गया था जिसके कारण शवों को जनपद मुख्यालय नहीं लाया जा सका, यद्यपि प्रभावित क्षेत्र में खोज एवं बचाव कार्य किया जा रहा है।

वर्तमान तक उक्त घटना में प्रभावित व्यक्तियों का विवरण निम्नवत् हैः-
1. कुल व्यक्ति – 61
2. सुरक्षित व्यक्ति – 32
3. मृत व्यक्ति – 26
4. लापता व्यक्ति – 03

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!