टीएमयू को लेकर सीयूईटी में छात्रों की जबर्दस्त दिलचस्पी

Spread the love

टॉप टेन प्राइवेट यूनिवर्सिटीज़ में हुई शुमार: कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट- सीयूईटी में करीब 1.65 लाख से अधिक स्टुडेंट्स ने 33 कोर्सेज़ में ऑनलाइन दिखाई दिलचस्पी, टीएमयू के बीटेक-सीएस और फॉर्मेसी कोर्स रहे टॉप पर

 

ख़ास बातें

  • यूजी में प्रवेश को एनटीए फर्स्ट टाइम करा रहा है सीयूईटी
  • सेंट्रल और स्टेट यूनिवर्सिटीज़ के संग निजी विवि भी शामिल
  • एक दर्जन और कोर्स भी पांच हजार से अधिक छात्रों की पसंद
  • इंटर की परसेंटेज का झंझट खत्म, जुलाई में होगी परीक्षा

-प्रो. श्याम सुंदर भाटिया

मुरादाबाद, 5 जून।  अखिल भारतीय स्तर पर होने जा रहे कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट- सीयूईटी ने तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी, मुरादाबाद को दिल बाग-बाग करने वाली हैप्पी न्यूज़ दी है। सरकार ने यूजी के इस एंट्रेंस के लिए सेंट्रल और स्टेट यूनिवर्सिटीज़ के संग-संग निजी विश्वविद्यालयों को भी शामिल किया है। देश की सभी यूनिवर्सिटीज़ के यूजी कोर्सेज़ को ऑनलाइन शो कर दिया गया है, ताकि स्टुडेंट्स को अपनी पसंद के विश्वविद्यालयों का चयन कर सकें। इस वर्चुअली चयन प्रक्रिया का नतीजा बताता है, तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी के प्रति देश के छात्र-छात्राओं में जबर्दस्त क्रेज है। अब तक देश भर से 1.65 लाख विद्यार्थियों ने टीएमयू के 33 कोर्सों के प्रति अपनी दिलचस्पी दिखाई है। यह दावा यूनिवर्सिटी नहीं कर रही है, बल्कि सीयूईटी का डाटा बोल रहा है। इनमें बीटेक-सीएस और फॉर्मेसी कोर्स टॉप पर हैं। इनमें 23 हजार से अधिक इंटर के छात्रों ने बीटेक- सीएस जबकि 8 हजार से अधिक छात्रों ने बीटेक- ईसी के प्रति अपना रूझान प्रदर्शित किया है। फॉर्मेसी के लिए 8 हजार से अधिक स्टुडेंट्स ने प्रवेश की इच्छा जताई है। टीएमयू के कुलाधिपति श्री सुरेश जैन कहते हैं, इन छात्र-छात्राओं का यूनिवर्सिटी के प्रति विश्वास यह बताता है, यूनिवर्सिटी में स्टडी का स्तर श्रेष्ठ है। यूनिवर्सिटी में 800 स्थायी और 200 से अधिक पार्ट टाइमर फैकल्टी उच्च शिक्षित और अनुभवी हैं। प्लेसमेंट का ट्रैक रिकॉर्ड भी शानदार है।

सीयूईटी के आंकडे़ यूनिवर्सिटी को गौरवान्वित करने वाले हैं। बकौल डाटा टीएमयू के करीब एक दर्जन ऐसे कॉलेज या कोर्स भी शुमार हैं, जिनके लिए पांच हजार से अधिक भावी छात्र-छात्राओं ने अपनी पसंद की मुहर लगाई है। इनमें बीबीए-7,196, बीएससी एग्रीकल्चर- 6,716, बीकॉम-ऑनर्स-6,675, बीसीए-6,633,  बीएससी ऑनर्स- सीएस 6,498, बीटेक-मैकेनिकल- 6,295 बीकॉम- 6,073, बीटेक-सिविल 5,984, बीएससी ऑनर्स मैंथ- 5,821, बीएससी ऑनर्स फिजिक्स- 5,192, बीएससी ऑनर्स केमिस्ट्री- 5,177 सरीखे कोर्स हैं। उल्लेखनीय है, देश के केंद्रीय और राज्य विश्वविद्यालयों के संग-संग डीम्ड टू बी और निजी विश्वविद्यालयों के लिए जुलाई में एनटीए की ओर से प्रवेश परीक्षा होगी, जिसमें प्रदर्शन के आधार पर स्टुडेंट्स को अपने पंसद के विश्वविद्यालय में एडमिशन ले सकेंगे। इससे छात्रों को इंटर के अंको की मारामारी से छुटकारा मिलेगा। इसके अलावा ग्रामीण पृष्ठभूमि के स्टुडेंटस को भी लाभ होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!