कुलाधिपति बोले, खेलों के प्रति टीएमयू संजीदा

Spread the love

 

डेलिगेशन में शामिल जूडो खिलाड़ी प्रखर सिंह और आयुष विश्नोई जुलाई में थाईलैंड में आयोजित जूडो जूनियर कैडेट एशियन चैंपियनशिप में लेंगे भागख़ास बातें

खास बातें:-

  • कुलाधिपति ने प्रखर सिंह को दिया यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेने का न्यौता
  • यूपी से केवल दो खिलाड़ियों का चयन, दोनों मुरादाबाद के
  • कुलाधिपति ने दोनों खिलाड़ियों को दिया विजयी भव का आशीर्वाद
  • टीएमयू में खेलों के लिए देशभर में बेस्ट इंफ्रास्ट्रक्चर

प्रो. श्याम सुंदर भाटिया
तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी के कुलाधिपति श्री सुरेश जैन मानते हैं, खेलों के प्रति हमारी यूनिवर्सिटी बेहद संजीदा है। टीएमयू के पास स्पोर्ट्स मेें राष्ट्रीय स्तर का इंफ्रास्ट्रक्चर है। इंडोर स्पोर्ट्स स्टेडियम में टीएमयू देश के बड़ेे स्टेडियम में शुमार होता है। इसमें 08 बैडमिंटन प्रतियोगिताएं एक साथ हो सकती हैं। 2015 में यूनिवर्सिटी को रणजी ट्राफी की मेजबानी का मौका भी मिल चुका है। कुलाधिपति ने ये बेमिसाल उपलब्धियां खिलाड़ियों के एक प्रतिनिधिमंडल से साझा कीं। उन्होंने दोनों खिलाड़ियों को अग्रिम बधाई देते हुए विजयीभव का आशीर्वाद दिया। उल्लेखनीय है, प्रतिनिधिमंडल में मुरादाबाद का 12वीं क्लास का स्टुडेंट प्रखर सिंह भी शामिल रहा। वह अंडर-19 जूडो का खिलाड़ी है। जूडो जूनियर कैडेट एशियन चैंपियनशिप के लिए छात्र प्रखर का चयन हुआ है। यह प्रतियोगिता 15 से 22 जुलाई के बीच थाईलैंड में होगी। प्रखर की स्पोर्ट मेधा से प्रभावित कुलाधिपति ने उच्च शिक्षा के लिए प्रखर को टीएमयू में एडमिशन लेने का न्यौता भी दिया। टीएमयू में 21 जून को सांसद स्पोर्ट स्पर्धा भी हो चुकी है।

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी सांसद स्पोर्ट स्पर्धा को लेकर बेहद गंभीर हैं। पीएम की इच्छा है, ग्रामीण इलाकों में खेल की छिपी प्रतिभाओं को भी चमकने का मौका मिले। उल्लेखनीय है, प्रतिनिधिमंडल में शामिल श्री अरूण पंडित जूडो के राष्ट्रीय खिलाड़ी हैं। सांसद स्पोर्ट स्पर्धा में अरूण ने अपनी टीम को जीत दिलाई थी। जूडो जूनियर कैडेट एशियन चैंपियनशिप के लिए यूजी के छात्र आयुष विश्नोई का चयन भी हुआ है। मुरादाबाद के इन दोनों का चयन 22 से 25 जून के बीच दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम में चयन प्रक्रिया के बाद हुआ है। गर्व की बात यह है, यूपी से इस चैंपियनशिप के लिए सिर्फ प्रखर सिंह और आयुष विश्नोई का ही चयन हुआ है।

उल्लेखनीय है, टीएमयू 2015 में रणजी ट्राफी की मेजबानी कर चुकी है। इसके अलावा दो बार कूच बिहार ट्राफी का आयोजन भी टीएमयू में हो चुका है। कर्नल सीके नायडू ट्राफी, यूथ नेशनल वॉलीबाल चैंपियनशिप, सीनियर नेशनल वॉलीबाल चैंपियनशिप, कैरम नेशनल चैंपियनशिप, स्टेट बैडमिंटन, फुटबाल, शूटिंग, बास्केटबाल चैंपियनशिप की प्रतियोगिताएं भी टीएमयू में हो चुकी हैं। टिमिट कॉलेज ऑफ फिजिकल एजुकेशन के प्राचार्य प्रो. मनु मिश्रा बताते है, यूनिवर्सिटी से बीपीएड और एमपीएड पासआउट अंशु रानी ने वॉलीबाल में स्टेट लेवल पर 04 गोल्ड मेडल, जबकि सविता गुरुंग ने जूडो में दो बार नेशनल लेवल पर गोल्ड मेडल जीते हैं। वह एशियन मेडलिस्ट भी हैं। इसके बाद यह डेलिगेशन डीन छात्र कल्याण प्रो. एमपी सिंह से भी मिला. उन्होंने भी थाईलैंड के लिए चयनित खिलाड़ियों को बधाई दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!