टीएमयू में वृक्षारोपण का लिया संकल्प

Spread the love

तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई की ओर से एग्रीकल्चर कॉलेज में पर्यावरण दिवस पर रोपे गए 50 पौधे

 

ख़ास बातें

  • पृथ्वी के वातावरण से ही जीवन का अस्तित्वः प्रो. रघुवीर
  • पॉलीथिन का उपयोग न करें और न करने दें: डॉ. आदित्य
  • पेड़ों की कटाई रोकें और अधिक करें वृक्षारोपणः प्रो. मंजुला
  • पर्यावरण को शुद्ध और स्वच्छ बनाएं स्टुडेंट्सः प्रो. एमपी

–प्रो. श्याम सुंदर भाटिया-

मुरादाबाद, 6  जून। तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रो. रघुवीर सिंह ने कहा, इंसान का जीवन पृथ्वी के वातावरण के कारण अस्तित्व में है। प्रकृति और पर्यावरण से ही ब्रह्मांड सुचारू रूप से चलता है। हमारे सांस लेने के लिए हवा, खाने-पीने की जरूरी चीजें और पृथ्वी पर जीवन जीने के लिए अनुकूल दशाएं वातावरण ही प्रदान करता है। तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई- एनएसएस के तत्वावधान में कॉलेज ऑफ एग्रीकल्चर साइंस की ओर से वृक्षारोपण कार्यक्रम में बतौर मुख्य वक्ता बोल रहे थे ।

कुलसचिव डॉ. आदित्य शर्मा ने कहा, हम सभी को पर्यावरण दिवस पर संकल्प लेना चाहिए कि पॉलीथिन और प्लास्टिक के इस्तेमाल पर पूरी तरह से रोक लगाने का प्रयास करना चाहिए। एसोसिएट डीन प्रो. मंजुला जैन बोलीं, अब निरन्तर पेड़ों की कटाई हो रही है। इससे वातावरण में ऑक्सीजन की कमी और भीषण प्राकृतिक आपदाओं का सामना भी करना पड़ रहा है। ऐसे में हम सभी यह संकल्प लें, पेड़-पौधों की कटाई बंद करके अधिक से अधिक पौधे लगाएं। इस मौके पर कुलपति, रजिस्ट्रार, एसोसिएट डीन, निदेशक छात्र कल्याण और प्राचार्यों के संग-संग स्टुडेंट्स ने नीम, पीपल, पिलखन, देवदार गुलमोहर आदि के 50 पौधे लगाए रोपे।

निदेशक छात्र कल्याण प्रो. एम.पी सिंह ने कहा, इधर-उधर फेंका गया कचरा जानवरों के पेट में जाता है या नदियों में बह जाता है इस कारण नदियां भी प्रदूषित हो जाती है। अतः हमें कचरे का उचित निस्तारण करना चाहिए। हमें अधिक से अधिक वृक्ष लगाकर पर्यावरण को शुद्ध और स्वच्छ बनाने का प्रयास करना चाहिए। वृक्षारोपण के पश्चात् तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी में एनएसएस के समन्वयक डॉ. रत्नेश जैन ने सभी अतिथियों का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर टिमिट-डीएलएड की प्राचार्या डॉ. कल्पना जैन, कुंथनाथ कॉलेज के  प्राचार्य डॉ. विनोद जैन, कॉलेज ऑफ एग्रीकल्चर साइंस के डॉ. आशुतोष अवस्थी, डॉ. देवेंद्र पाल सिंह, श्री धर्मेन्द्र सिंह, नर्सिंग कॉलेज के श्री प्रमोद कुमार, एआर और सह समन्वयक श्री दीपक मलिक के संग-संग 50 से अधिक छात्र-छात्राएं भी उपस्थिति रहे। उल्लेखनीय है, विश्व पर्यावरण दिवस- 2022 की थीम-केवल एक पृथ्वी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!