लोक तंत्र परिर्वतन में महिलाओं की भूमिका पर दो दिवसीय सेंमिनार

Spread the love

देहरादून, 13 फरबरी (उहि)।प्रगति  संस्था द्वारा दिनांक 11 फरवरी से 12 2022 तक लोक तंत्र में महिलाओं की भूमिका पर दो दिवसीय सेमिनार प्रगति संस्था, एवं ताईवान फंड के सहयोग से, जे0पी0प्लाजा कारगी चौक ़देहरादून में दो दिवसीय कार्यक्रम का समापन किया गया इस सेमिनार में लगभग 40 प्रतिभागीयों, स्वयं सहायता समूह के सदस्य, वार्ड सदस्य, ग्राम प्रधान एवं अन्य सक्रिय महिला प्रतिभागियों ने प्रतिभाग किया कार्यशाला का उद्घाटन प्रगति की उपाघ्यक्ष जोसफिन सिंह एवं द्वारा किया महिलाआंें को सम्बोधित करते हुए कहा कि लोकतंत्र में अधिकारों पर चर्चा करते हुए कहा कि आज भी महिलाएं अपने अधिकरों से वंचित हैं इसके साथ ही उन्होने मतदाता जागरूकताके विषय में चर्चा करते हुए कहा कि हमें यह समझना होगा कि पंचायती राज व्यवस्था लोकतंत्र का एक मजबूत स्तम्भ है। यह धरातल लोकतंत्र को प्रतिबिम्बित करता है, यह विकास प्रक्रिया में सहभागिता का एक महत्वपूर्ण माध्यम है क्योंकि यह ग्रामीण जनता के दैनिक मामलों का निपटारा कर उनके नजदीकी सर्म्पक में रहता है।


श्रेय कुमार लीगल ट्रेनर ने महिला हिंसा पर चर्चा के दौरान प्रतिभागी सुश्री सरला झकमोला ने कहा कि यदि किसी महिला पर हिंसा होती है उसके लिए कहां शिकायत करनी चाहिए। श्री अभिनव सिंह, प्रवीण कुमार लीगल ट्रेनर ने यौन उत्पीडन, आदि पर चर्चा की
कार्यशाला के दूसरे दिन महिला फोरम का गठन किया गया एवं फोरम की महिलाओं ने कारगी गांव में काउसिंलिंग सेन्टर खोलने की मांग की फोरम की महिलाओं ने तय किया महिला हिंसा रोकने के लिए हर वे हर क्षेत्र में एक काउसिंलिग सेन्टर चलाएगीं।
कार्यशाला के अन्त में श्रीमती रेनू रौतेला द्वारा महिलाओं का धन्यवाद किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!