गंभीर अपराधिक मामलों में सरकार की हीला हवाली के विरोध में उपपा का नैनीताल चलो का आवाहन

Spread the love

अल्मोड़ा, 6 दिसंबर ( उ हि)। उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी ने जगदीश हत्याकांड पर सरकार की बेरुखी, प्रदेश में लगातार बिगड़ती कानून व्यवस्था, अंकिता व हैलंग मामले में लीपापोती समेत तमाम जन समस्याओं को लेकर 16 दिसम्बर को तमाम जन संगठनों के साथ “नैनीताल चलो” का आह्वान किया है.

आज डा. भीमराव आंबेडकर के परिनिर्वाण दिवस पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उत्तराखण्ड परिवर्तन पार्टी के केन्द्रीय अध्यक्ष पी सी तिवारी ने कहा कि प्रदेश में सरकार के संरक्षण में अपराध और अराजकता लगातार बढ़ रही है, कानून व्यवस्था ध्वस्त हो गई है. पार्टी के केन्द्रीय कार्यालय में हुई बैठक में हैलंग में ग्रामीण महिलाओं के साथ जुल्म- ज्यादती करने के लिए जिम्मेदार लोगों पर सरकार ने कोई कार्यवाही नहीं की जिससे उत्तराखण्ड की जनता स्वयं को अपमानित महसूस कर रही है. बैठक में दलित युवक जगदीश चंद्र की जातिवादी तत्वों द्वारा निर्मम हत्या पर प्रदेश सरकार, जनप्रतिनिधियों व भाजपा नेताओं की चुप्पी, अंकिता हत्याकांड में प्रभावशाली दोषियों को बचाने की कोशिश, पिंकी, मुकेश, मनाली, विरेंद्र कुमार, सुनील, केदार भंडारी, विपिन रावत जैसे लगातार हो रहे कांडों से उत्तराखण्ड की जनता आहत महसूस कर रही है. उपपा ने कहा कि उत्तराखण्ड भर्ती घोटाले, नौकरियां की लूट और जंगली जानवरों के आतंक से त्रस्त है, कर्मचारी,पेंशनर आंदोलित हैं, बेरोजगारी,महंगाई, भ्रष्टाचार चरम पर है, किंतु सरकार अपनी न्यायसंगत मांगों के लिए लड़ रहे लोगों की उपेक्षा कर रही है.

उत्तराखण्ड राज्य का दुर्भाग्य है कि जगदीश हत्याकांड में प्रदेश के मुख्यमंत्री, विधायक, सांसदों ने रहस्यमय चुप्पी साध कर इस बात का संकेत दिया है कि उन्हें दलितों, वंचितों व आम लोगों की कोई परवाह नहीं है, जिसके खिलाफ सड़कों पर उतरना आज की जरूरत बन गई है. बैठक का संचालन केन्द्रीय महासचिव एडवोकेट नारायण राम ने किया. बैठक में पार्टी की केन्द्रीय उपाध्याय आनंदी वर्मा, केन्द्रीय महासचिव नरेश नौडियाल, नगर अध्यक्ष हीरा देवी, उपाध्याय सरिता मेहरा, केन्द्रीय कार्यकारिणी के एडवोकेट गोपाल राम, किरन आर्या, राजू गिरी, अनिल कुमार, बिहारी लाल, रश्मि आर्या सहित तमाम लोग उपस्थित थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!