सम्मान एवं सलाम राष्ट्रीय श्रृंखला के तहत यूसैक के निदेशक एवं प्रख्यात भू विज्ञानी प्रो0 एम पी एस बिष्ट सम्मानित

Spread the love

देहरादून, 10    जुलाई  (उहि )। जरा याद करो कुर्बानी …के उद्देश्य को सार्थक करते हुए सम्मान एवं सलाम राष्ट्रीय फाउंडेशन ने आईआरटीडी आडिटोरियम, देहरादून में अवार्ड कार्यक्रम 2022 का भव्य आयोजन किया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि उत्तराखंड के राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह, विशिष्ट अतिथि केन्द्रीय मंत्री श्री रामदास आठवले, थे।

Professor MPS receiving the Samman aur Salaam award for his extraordinary contribution to the field of Himalayan geology.

देहरादून के इस कार्यक्रम में उत्तराखंड अंतरिक्ष उपयोग केंद्र के निदेशक प्रो0 एम.पी.एस. बिष्ट और आईआरएस समीर वानखेड़े सहित करीब 28 परिजनों, अधिकारियों,12 समाजसेवियों व दिल्ली से आमंत्रित वरिष्ठ पत्रकार विजय शर्मा व राजीव निशाना को भी विशेष रुप से सम्मानित किया।फाउंडेशन के अध्यक्ष विवेक झा ने बताया, कि संस्था द्वारा ये 7 वां  आयोजन था, इससे पहले राजधानी दिल्ली, झारखंड, हिमाचल प्रदेश में भी शहीद वीर सैनिकों के परिजनों को स्मृति चिन्ह व आर्थिक सहायता प्रदान की गई।

प्रोफ़ेसर महेंद्र प्रताप सिंह बिष्ट उत्तराखंड के जानेमाने भू वैज्ञानिक हैं। जिनकी गिनती खड़क सिंह वाल्डिया और  पद्मश्री बी सी ठाकुर के बाद की पीढ़ी के गिने चुने हिमालयी भू वैज्ञानिकों में की जाती है। डॉ. बिष्ट मूलतः गढ़वाल विश्वविद्यालय के भू विज्ञान विषय के डीन हैं और उनकी योग्यता का लाभ उठाने के लिए उत्तराखंड सरकार ने उन्हें अपने अंतरिक्ष उपयोग केंद्र ( USAC) का निदेशक नियुक्त किया है।  डॉ० बिष्ट के निर्देशन में कई छात्र पीएचडी कर चुके हैं।

उत्तराखंड अंतरिक्ष अनुप्रयोग केंद्र (USAC) अंतरिक्ष-प्रौद्योगिकी संबंधी गतिविधियों के लिए उत्तराखंड राज्य में नोडल एजेंसी है और राज्य और उसके लोगों के लाभ के लिए अंतरिक्ष-प्रौद्योगिकी को नियोजित करने का अधिकार है। इसका गठन 2005 में विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग, उत्तराखंड सरकार के तहत एक स्वायत्त संगठन के रूप में किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!