उत्तराखंड कांग्रेस का आरोप : चार धाम यात्रा के प्रति उदासीन है उत्तराखंड सरकार/ राज्य में ध्वस्त हो चुकी है कानून व्यवस्था

Spread the love
देहरादून, 16 मई (उहि ). उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा का आरोप है कि  उत्तराखंड में कानून व्यवस्था अति चिंतनीय स्थिति में पहुंच गई है। एक तरफ चारधाम यात्रा में चारो तरफ  कुप्रबंधन एवं अव्यवस्थाओं का बोल-बाला है तो दूसरी तरफ़ प्रदेश में एक  दिन में तीन-तीन हत्याएं होना राज्य की कानून व्यवस्था की पोल खोल रही हैं
महरा ने  बयान जारी कर कहा कि  शांतिपुरी से भाजपा के मंडल महामंत्री की खनन मामले को लेकर हत्या होना यह प्रदर्शित करता है कि मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस लगातार खनन माफियाओं की सक्रियता व बढ़ते प्रकोप का जिक्र कर रही थी वह सच साबित हो रहा है। माहरा ने कहा कि जब भाजपा राज में उनका मंडल महामंत्री ही सुरक्षित नहीं है तो बाकी प्रदेशवासियों की स्थिति समझी जा सकती है।
उसी दिन देहरादून के पटेलनगर  थाना क्षेत्र में महिला की हत्या, ऋषिकेश में एक व्यक्ति की हत्या से पूरा उत्तराखंड दहल गया है।
माहरा ने कहा प्रदेश की कानून व्यवस्था पटरी से उतर चुकी है। सरकार और तंत्र पूरी तरह से चंपावत चुनाव में मुख्यमंत्री की जीत सुनिश्चित करने में व्यस्त है,  पुलिस प्रशासन पूरी तरह से नेताओं के शरणागत हो चुका है। बड़े अधिकारियों का आमजन की सुरक्षा की तरफ कोई ध्यान नहीं है।
करन माहरा ने कहा कि आज राज्य में कानून व्यवस्था की  स्थिति  बहुत ही निंदनीय है जिसकी पुरजोर शब्दों में भर्त्सना की जानी चाहिए। प्रदेश अध्यक्ष  करन माहरा  ने राज्य के मुख्यमंत्री का आह़वाहन करते हुए कहा की मुख्यमंत्री जी को चाहिए कि वह  राज्य की बिगड़ती कानून व्यवस्था पर विशेष तवज्जो दें और खनन माफियाओं पर सख्ती से लगाम लगाये
महारा ने कहा आज पूरा देश उत्तराखंड को देख रहा है यहां चारधाम यात्रा चल रही है, सरकार को संजीदगी और तत्परता के साथ कार्य करना चाहिए जिससे कि उत्तराखंड की छवि धूमिल ना हो और एक सुरक्षित उत्तराखंड का संदेश पूरे विश्व में जाए

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!