गांव के पास कूड़ादान के विरोध में अधिशासी अधिकारी का घेराव

Spread the love

–थराली से हरेंद्र बिष्ट–

नगर पंचायत थराली के अंतर्गत सिमलसैण के पास प्रस्तावित कूड़ादान बनने के प्रयास का नागरिकों ने विरोध करते हुए शनिवार को यहां नगर पंचायत कार्यालय में अधिशासी अधिकारी का घिराव किया।

इस संबंध में ईओं के द्वारा मामले को शासन में भेजने के आश्वासन के बाद ईओं का घिराव समाप्त किया। नगर पंचायत थराली का गठन हुए 6 वर्ष हों गए किंतु उसके पास आज तक भी अपना कूड़ा डंपिंग यार्ड नही है। इसके तहत पंचायत ने सिमलसैड़ के पास एक कूड़ा डंपिंग यार्ड बनने का प्रस्ताव शासन को भेज दिया और सरकार ने बकायदा इस की स्वीकृति भी प्रदान कर दी है। बकायदा पंचायत ने निर्माण के लिए निविदा भी आमंत्रित कर ली है। किंतु कूड़ादान बनाने के प्रयासों की भनक लगते ही पिछले दो माह से सिमलसैण के नागरिकों ने इस का विरोध शुरू कर दिया था,जोकि थमने का नाम नही ले रहा है।

उनका कहना है कि जिस स्थान को कूड़ा डंपिंग ग्राउंड के रूप में चुना गया है उसके पास ही पैट्रोल पंप, के साथ ही कई आवासीय एवं व्यवसायिक मकाने हैं। कूड़ा याड बनने के बाद आम लोगों के साथ ही इसके आसपास रहने वाले लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

इसी के विरोध में सिमलसैण के नागरिकों ने यहां ईओं का विरोध करते हुए इस स्थान के बजाय इससे आगे सुनसान स्थान पर डंपिंग यार्ड बनने की मांग करते हुए। ईओं का घिराव किया।इस मौके पर ईओं टंकार कौशल ने जनभावनाओं से शासन को अवगत करवाने की बात कहते हुए कहा कि इस पर सरकार के द्वारा जो भी अंतिम निर्णय लिया जाएगा उसके अनुसार कार्य किया जाएगा।

जबकि नागरिकों ने प्रस्तावित स्थान पर किसी भी कीमत पर निर्णय कार्य नही होने देने की चेतावनी दी है। इस मौके पर ममंद अध्यक्ष कविता देवी,राधा देवी, अनिता देवी,पुष्पा देवी,केदार दत्त, विजय चंदोला, गुड्डी देवी, मुन्नी देवी,बीना देवी, अनिता देवी, गीता देवी,उषा देवी आदि लोग मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!