कश्मीर फ़ाइल्स’ फिल्म की वजह से ‘फाइल‘ (फ़ाइल) शब्द चर्चा में

Spread the love

-सुशील उपाध्याय

‘कश्मीर फ़ाइल्स’ फिल्म की वजह से ‘फाइल‘ (फ़ाइल) शब्द चर्चा में है। इस फिल्म के प्रदर्शित होने के बाद फाइल शब्द के प्रयोग की आवृत्ति अनपेक्षित ढंग से बढ़ी है और यह शब्द कार्यालयी (शुद्धतावादियों के लिए कार्यालयीन) भाषा से आगे निकलकर लोगों की जुबान पर चढ़ गया है। कम ही शब्दों के साथ ऐसा होता है कि वे अचानक बहुत तेजी से चर्चा और बहस का विषय बनते हैं और फिर लंबे समय तक बने रहते हैं। यूरोप की प्रायः सभी भाषाओं में थोड़े भिन्न उच्चारण के साथ इस शब्द का प्रयोग होता है। यह शब्द अंग्रेजी के माध्यम से भारतीय भाषाओं तक पहुंचा है और भारत में करीब 250 साल के प्रवास के बाद बिल्कुल भारतीय शब्द बन गया है। अब शायद ही किसी को इसका हिंदी अर्थ तलाशने की जरूरत पड़ती हो। (हालांकि, वर्ष 2021 में केंद्रीय राजभाषा समिति की सिफारिश पर बिहार पुलिस ने फाइल शब्द समेत 70 अंग्रेजी शब्दों के स्थान पर हिंदी शब्दों के प्रयोग की बात कही थी, यह प्रयोग कितना सफल हुआ होगा, इसका अनुमान बिहार पुलिस की फाइलों, अर्थात पत्रावलियों को देखकर ही लगाया जा सकता है! ) फ़ाइल शब्द में ‘फ‘ के नीचे नुक्ता लगे होने के कारण कई बार ऐसा भ्रम होने लगता है कि कहीं इसका रिश्ता अरबी या फारसी से तो नहीं है। यह यूरोप की प्राचीन भाषा लैटिन से आया हुआ शब्द है।
व्याकरण की दृष्टि से फाइल संज्ञा है। संज्ञा होने के बावजूद इसका प्रयोग कई बार भिन्न संदर्भों में भी किया जाता है। अगर मानक अर्थ की दृष्टि से देखें तो फाइल वह है, जिसमें भविष्य के संदर्भ एवं उपयोग के लिए जरूरी कागजात को व्यवस्थित रूप में रखा जाता है। इस शब्द का उत्स लैटिन भाषा में मिलता है और वहां इसका मूल अर्थ है-धागा। ऐसा धागा जिसका उपयोग कागजों को नत्थी करने के लिए किया जाता है। इसलिए कार्यालयी भाषा में अक्सर निर्देश दिए जाते हैं-‘इसे फाइल कर दो’। तब यह शब्द क्रिया की तरह व्यवहार में लाया जाता है। फ्रेंच आदि भाषाओं में फाइल को किसी सूचना आदि को ‘संरक्षित करने‘ के अर्थ में ग्रहण किया जाता है। जैसा कि सभी जानते हैं कि किसी शब्द के साथ उसके अर्थ का रिश्ता यादृच्छिक यानी लगभग काल्पनिक होता है। इसलिए कई बार शब्द अपनी भौगोलिक यात्राओं के दौरान पूर्व निर्धारित अर्थ का अतिक्रमण करके नया अर्थ भी ग्रहण करता है। जब फाइल शब्द को मीडिया के संदर्भ में देखते हैं तो स्टोरी फाइल करना एक नए अर्थ के तौर पर सामने आता है। यहां फाइल का अर्थ प्रेषित या संप्रेषित करने से जुड़ा है।
डाॅ. सुब्रमण्यम स्वामी से जुड़ा एक पुराना किस्सा है। कई दशक पुरानी बात है। इंडियन एक्सप्रेस के एक रिपोर्टर ने डाॅ. सुब्रमण्यम स्वामी के पास फोन किया कि वे उनसे जुड़ी एक फाइल के बारे में इंटरव्यू करना चाहते हैं। डाॅ. स्वामी ने रिपोर्टर को जवाब दिया कि आप आइये, मेरे पास भी आपकी एक फाइल है। इस किस्से में फाइल शब्द का अर्थ ‘कच्चा चिट्ठा’ यानि गोपनीय सामग्री के रूप में ग्रहण किया गया है। ये किस्सा सच है या नहीं, इसे तो संबंधित रिपोर्टर और डाॅ. स्वामी ही बेहतर बता सकते हैं, लेकिन फाइल शब्द का उपर्युक्त अर्थ आसानी से पता चल रहा है। कश्मीर फाइल्स फिल्म के टाइटल में भी ये ही भाव निहित है कि जो कुछ छिपा हुआ था, उसे उजागर किया गया है। फिलहाल यह शब्द राजनीतिक अर्थ ग्रहण करता हुआ भी लग रहा है इसीलिए कहा जा रहा है कि अब ‘इंडिया पार्टीशन फाइल्स‘ फिल्म भी बननी चाहिए। जब किसी शब्द का राजनीतिक संदर्भ सामने आने लगता है तो उसके समानांतर भौंड़े अर्थ वाले शब्द भी गढ़े जाने लगते हैं। इसलिए सोशल मीडिया पर कश्मीर फाइल्स के स्थान पर ‘कश्मीर पाइल्स’ भी पढ़ने-देखने को मिल रहा है। ‘कश्मीर पाइल्स’ में कश्मीर समस्या को ऐसी बीमारी की तरह बताने की कोशिश की जा रही है, जिसके बारे में आमतौर पर सार्वजनिक रूप से कुछ नहीं कहा जाता, कुछ कहने से बचा जाता है।
पुलिस की भाषा में रिपोर्ट फाइल करने को दर्ज या अंकित किया जाना माना जाता है। जिसे दायर करना, पंजीकृत करवाना, लिखवाना या दाखिल करना भी कह सकते हैं। जब कोर्ट की शब्दावली में फाइल को देखते हैं तो इसे प्रार्थना या अर्जी के रूप में स्वीकार किया जाता है। जैसे, हिजाब मामले में कुछ समूहों द्वारा कोर्ट में केस फाइल किया गया है। इसी तरह बैंकिंग और एकाउंटिंग की भाषा में फाइल और फाइलिंग पूरी तरह भिन्न अर्थ के साथ मौजूद हैं। फाइल के साथ कुछ अन्य शब्दों को जोड़कर पारिभाषिक शब्द भी तैयार किया जाते हैं जो फाइल शब्द के मूल अर्थ से काफी अलग होते हैं। जैसै, फाइल इंडेक्स पुस्तकालय विज्ञान से जुड़ा हुआ है। शब्दकोशों में दर्ज विवरण के अनुसार इस शब्द के अर्थ नत्थी करना, संचिका, पंक्तिबद्धता, कतार, क्रम में रखना भी हैं। इसका एक अन्य अर्थ रगड़ना या घिसना भी बताया गया है। फिलहाल इन अर्थाें को छोड़िए और कश्मीर फाइल्स के अर्थ को ठीक से ग्रहण कीजिए!
जारी …..
सुशील उपाध्याय

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!