कांग्रेस का  चुनाव अभियान शुरू : हरक सिंह भी थिरके “चैत कि चैत्वाली” की धुन पर 

Spread the love

देहरादून,24  जनवरी (उहि ) । उत्तराखंड विधानसभा के चुनाव के लिए सोमवार को कांग्रेस ने अपने चुनाव अभियान की विधिवत लॉन्चिंग कर चुनावी बिगुल फूंक दिया. इस अवसर पर चुनाव अभियान गीत भी लॉन्च किया गया  प्रख्यात लोक गायक चंद्र सिंह रही के प्रसिद्ध गीत चैत कि चैत्वाली की धुन पर आधारित है।  इस अवसर पर हरक सिंह रावत पहली बार कांग्रेस के मंच पर प्रकट हुए. उन्होंने चैत की चैत्वाली की धुन पर अन्य नेताओं के साथ ठुमके भी लगाए।

आज छत्तीसगढ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल, उत्तराखण्ड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, उत्तराखण्ड प्रदेश कॉंग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल, नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह, उत्तराखण्ड चुनाव में एआईसीसी पर्यवेक्षक मोहन प्रकाश, उत्तराखण्ड प्रदेश कॉंग्रेस की सहप्रभारी श्रीमती दीपिका पाण्डेय कांग्रेस नेता हरक सिंह रावत कांग्रेस राष्टीय प्रवक्ता प्रो.  गौरव वल्लभ, ने आगामी उत्तराखण्ड चुनाव के लिए उत्तराखण्ड वासियों के समक्ष ‘‘चार धाम-चार काम, उत्तराखण्डी स्वाभिमान’’ कैम्पेन की विधिवत शुरूआत की।

चारधाम-चारकाम उत्तराखण्डी स्वाभिमान के तहत

  1. पॉच लाख परिवारों को सालाना 40 हजार रूपये स्वावलम्बन राशि प्रदान की जाएगी।
  2. गैस सिलेण्डर के दाम 500रू0 के अन्दर किये जाएंगे।
  3. चार लाख नये रोजगार का सृजन किया जाएगा।
  4. हर गांव हर द्वार आधुनिक तकनीक का उपयोग करके मेडिकल सुविधा मुहैया करायी जाएगी।

इस कार्यक्रम में आगामी चुनाव का कैम्पेन गीत, रेडियों जिंगल, टी0वी0 कमर्शियल का भी विमोचन किया गया। कार्यक्रम के दौरान भूपेश बघेल ने यह दोहराया कि कांग्रेस जो कहती है वो करती है उन्होनें उत्तराखण्ड वासियों को चार महीने में तीन मुख्यमंत्री बनाने वाली भाजपा की प्रयोगशाला को भी हटाने का आह्वान किया। चारधाम-चारकाम कैम्पेन के तहत चारों काम छः महीनों के गहन अध्ययन व जमीनी हकीकत के रूबरू होके बनाये गये है। आज उत्तराखण्डवासी डबल ईंजन की धुंआंछोडू सरकार के बेरोजगारी, मंहगाई, भ्रष्टाचार, पलायन से त्रस्त हैं सभी समस्याओं के निदान के रूप में कांग्रेस पार्टी ने आज श्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में इस कैम्पेन की विधिवत शुरूआत की।

मंच पर बैठे कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने चारधाम-चारकाम उत्तराखण्डी स्वाभिमान कैम्पेन के प्रति अपनी प्रतिबद्धता और उपरोक्त चार कामों का सरकारी ख़ज़ाने के ऊपर पड़ने वाले आर्थिक प्रभाव के बारे में पत्रकारों से अपने विचार साझा किये। कार्यक्रम का संचालन उत्तराखण्ड के मीडिया प्रभारी राजीव महर्षि ने किया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!