रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट ने पुनीत सागर अभियान की सफलता के लिए एनसीसी की सराहना की

Spread the love

JS R&A/D is a biennial event attended by the Senior representatives of the Ministry of Defence, including Dr. Ajay Kumar, Defence Secretary, Lt General Gurbirpal Singh, DG, NCC, the NCC heads of various states, and representatives of state governments. As the functioning of NCC activities is a joint responsibility of the Central and State Governments in terms of policies, finances, administration and other aspects, this conference provides a platform to plan, implement and coordinate the NCC activities by various stakeholders.

 

नई दिल्ली, 13   अक्टूबर। रक्षा राज्य मंत्री श्री अजय भट्ट ने समुद्र तटों, रिवरफ्रंट एवं अन्य जलाशयों से प्लास्टिक और अन्य अपशिष्ट पदार्थों को हटाने में पुनीत सागर अभियान की सफलता के लिए एनसीसी की सराहना की। वह 12 अक्टूबर  को नई दिल्ली में आयोजित एनसीसी के राज्य प्रतिनिधियों और अतिरिक्त / उप महानिदेशक (जेएस आर एंड ए/ डी) सम्मेलन में उद्घाटन भाषण दे रहे थे। उन्होंने कहा कि एनसीसी द्वारा युवाओं को प्रशिक्षित कर जिम्मेदार, अनुशासित एवं प्रेरित नागरिक बनाने का प्रयास प्रशंसनीय है तथा जीवन के सभी क्षेत्रों के लोगों द्वारा इसकी अत्यधिक सराहना की गई है।

जेएस आरएंडए/डी द्विवार्षिक कार्यक्रम है जिसमें डॉ. अजय कुमार, रक्षा सचिव, एनसीसी के डीजी लेफ्टिनेंट जनरल गुरबीरपाल सिंह, विभिन्न राज्यों के एनसीसी प्रमुख, राज्य सरकारों के प्रतिनिधि एवं रक्षा मंत्रालय के वरिष्ठ प्रतिनिधि शामिल थे।

चूंकि एनसीसी गतिविधियों का कामकाज नीतियों, वित्त, प्रशासनिक और अन्य पहलुओं के संदर्भ में केंद्र और राज्य सरकारों की संयुक्त जिम्मेदारी है, इसलिए यह सम्मेलन विभिन्न हितधारकों द्वारा एनसीसी गतिविधियों की योजना बनाने, लागू करने और समन्वय करने के लिए एक मंच प्रदान करता है।

एनसीसी के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल गुरबीरपाल सिंह ने कैडेट्स के लिए उच्च स्तर की प्रोत्साहन और प्रेरणा सुनिश्चित करने के लिए सभी राज्यों में अच्छी तरह से सुसज्जित प्रशिक्षण और शिविर बुनियादी ढांचे की स्थापना की आवश्यकता को रेखांकित किया। राज्यों के प्रतिनिधियों ने अपने-अपने राज्यों में बुनियादी ढांचे, प्रशिक्षण सुविधाओं, कैडेट्स को मुआवजे व धनराशि के मामले में एनसीसी को बढ़ावा देने तथा मदद करने की अपनी प्रतिबद्धता की पुष्टि की ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!