प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन महरा की हरीश रावत को नसीहत, जो कहना है पार्टी फोरम में कहें, न कि सोशल मीडिया में

Spread the love

-उत्तराखंड हिमालय ब्यूरो –

देहरादून, 04 अक्टूबर। सोशल मीडिया में हरीश रावत द्वारा राजनीति से विश्राम लेने की मंशा जाहिर किये जाने के बाद आज प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन महरा ने बयान जारी कर वरिष्ठ पार्टी नेताओं को नसीहत दे डाली कि उन्हे जो कुछ कहना है पार्टी फोरम में ही कहें और सोशल या इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर बयानबाजी न करें।

हरीश रावत ने सोशल मीडिया पर जारी बयान में कहा  था कि अब थोड़ा विश्राम अच्छा है। वे आशीर्वाद मांगने भगवान बद्रीनाथ के पास गए। भगवान के दरबार में मेरे मन ने मुझसे स्पष्ट कहा कि आप उत्तराखंड के प्रति अपना कर्तव्य पूरा कर चुके हो। वे इस निष्कर्ष पर पहुंचे हैं कि उत्तराखंडियत के एजेंडे को अपनाने और न अपनाने के प्रश्न को अब उत्तराखंड वासियों और कांग्रेस पार्टी पर छोड़ो।

हरीश रावत बोले कि उत्तराखंड कांग्रेस अपने को बदलेगी, अभी नहीं लगता। व्यक्ति को अपने को बदलना चाहिए। उन्होंने कहा कि उत्तराखंडियत के एजेंडे को वह राज्यवासियों और पार्टी पर छोड़ रहे हैं। सक्रियता बहुधा ईर्ष्या व अनावश्यक प्रतिद्वंद्विता पैदा करती है।

प्रदेश कांगे्रस अध्यक्ष श्री करन माहरा ने एक बयान जारी करते हुए पार्टी के वरिष्ठ नेतागणों तथा सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं से अपील की है कि इलेक्ट्रोनिक, प्रिंट मीडिया एवं सोशल मीडिया में बयानबाजी के बजाय अपनी बात पार्टी के उचित फोरम में ही रखें ताकि पार्टी संगठन की छबि खराब न हो। उन्होंने कहा प्रायः देखने में आया है कि पार्टी के कुछ वरिष्ठ नेतागणों द्वारा सोशल मीडिया में बयानबाजी की जा रही है जिसकी देखा-देखी कार्यकर्ताओं द्वारा भी उनका अनुसरण किया जा रहा है जो पार्टी संगठन के लिए कतई उचित नहीं ठहराया जा सकता है।
प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा ने कहा कि आज जब प्रदेश का कांग्रेस कार्यकर्ता भाजपा तथा आर.एस.एस. की कुरीतियों के खिलाफ संघर्ष कर रहा है तथा एक तरफ पार्टी के वरिठ नेता श्री राहुल गांधी जी भारत जोड़ो यात्रा के माध्यम से कांग्रेस पार्टी को मजबूती प्रदान करने के साथ ही पार्टी के कार्यकर्ताओं में एक नई स्फूर्ति एवं ऊर्जा डालने का काम कर रहे हैं। ऐसे समय में कुछ वरिष्ठ नेताओं एवं कार्यकर्ताओं द्वारा अपनी बात पार्टी के उचित फोरम में रखने के बजाय इलेक्ट्रोनिक, प्रिंट मीडिया एवं सोशल मीडिया में बयानबाजी एवं टिप्पणी कर कार्यकर्ताओं का मनोबल तोड़ने का काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि वरिष्ठ नेताओं द्वारा अखबारों तथा सोशल मीडिया के माध्यम से की जा रही ऐसी अनर्गल बयानबाजी से श्री राहुल गांधी जी के उद्देश्यों को भी गहरा धक्का लग रहा है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश कांग्रेस संगठन पिछले छः माह से सडकों पर उतर कर लगातार भाजपा सरकारों के भ्रष्टाचार, अधीनस्थ सेवा चयन आयोग भर्ती घोटाला, सहकारिता भर्ती घोटाला, विधानसभा में बैकडोर भर्ती घोटालों तथा उत्तराखण्ड की बेटी अंकिता भण्डारी की निर्मम हत्या जैसे मामलों में लगातार न्याय की लडाई के लिए आन्दोलन कर रही है तथा भाजपा की कुनीतियों के खिलाफ जनता से जुडे़ मुद्दों को लेकर लगातार संघर्ष कर रहा है ऐसे समय में अखबारों तथा सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी बात रखने से निष्ठावान कार्यकर्ता का मनोबल टूटता है तथा कांग्रेस पार्टी की मजबूती के लिए हो रही राहुल गांधी जी की भारत जोड़ो यात्रा के उद्देश्यों को भी आघात लगता है।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं तथा कार्यकर्ताओं से अपील की है कि अपनी बात अखबारों और सोशल मीडिया में रखने की बजाय पार्टी की उचित फोरम पर ही रखी जाय।

गौरतलब है कि हरीश रावत ने बद्रीनाथ में कहा था कि अब उनका मन विश्राम करने को कह राजा है और राहुल गांधी कि यात्रा के बाद वाह स्थान और नई भूमिका के बारे ने निर्णय लेंगे। परोक्ष रूप से उन्होंने प्रदेश नेतृत्व पर भी कटाक्ष किया था। करन महरा करना आ आज का बयान उसी सन्दर्भ मे माना जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!