दुर्घटनाएं रोकने के लिए सड़कों पर रोड सेफ्टी ऑडिट कार्य शीघ्र करने करने के निर्देश

Spread the love

–उत्तराखंड हिमालय ब्यूरो —

गोपेश्वर, 19 सितम्बर। जिलाधिकारी हिमांशु खुराना की अध्यक्षता में सोमवार को सड़क सुरक्षा समिति की मासिक बैठक हुई। जिसमें सड़क सुरक्षा से संबधित सभी बिन्दुओं की विस्तार से समीक्षा की गई। बैठक में जिलाधिकारी ने सुरक्षित यातायात एवं सड़क दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए संवदेनशील स्थलों पर सड़क सुधारीकरण, पैराफीट, क्रैशबैरियर, साइनेज लगाने का कार्य शीघ्र पूरा करते हुए बरसात के दौरान सड़कों पर बने गढ्ढों को तत्तकाल ठीक कराने के निर्देश सड़क निर्माणदायी संस्थाओं को दिए।

कहा कि सड़कों पर रोड सेफ्टी ऑडिट कार्य भी शीघ्र पूरा करें। जिलाधिकारी ने कहा कि सड़क दुर्घटना में घायल ऐसे व्यक्ति, जिन्हें उपचार हेतु जिले से हायर सेंटर रेफर करना पडा हो, उन कारणों की जानकारी दे। ताकि जिला अस्पताल में घायलों के उपचार हेतु जरूरी संशाधनों की व्यवस्था की जा सके। साथ ही छोटी सड़क दुर्घटनाओं के ऐसे मामले जो सीधे अस्पताल में आते है, उन सभी मामलों में दुर्घटना स्थलों को चिन्हित करें। ताकि ऐसे स्थान जहां पर बार-बार दुर्घटनाएं घटित हो रही, उन्हें ठीक कराया जा सके। एनएचआईडीसीएल द्वारा डम्पिंग जोन के लिए भूमि उपलब्ध कराने की मांग पर जिलाधिकारी ने संबधित एसडीएम को इसमें सहयोग करने के निर्देश दिए। इस दौरान पूर्व में घटित सड़क दुर्घटनाओं, इसके कारण एवं क्षति, संवेदनशील स्थलों पर संचालित सुरक्षात्मक कार्यो की समीक्षा के साथ ही सड़क दुर्घटनाओं को नियंत्रित करने के लिए एहतियाती उपाय रखने हेतु निर्देशित किया गया।

इस दौरान बताया गया कि जनवरी से अब तक आठ वाहन दुर्घटनाएं हुई है, जिसमें से सात मामलों में मजिस्ट्रीय जांच पूरी कर ली गई है और एक में जांच की जा रही है। ओवर स्पीड, ओवर लोडिंग, ड्रंक एंड ड्राइव आदि मामलों में पुलिस द्वारा 1286 वाहनों का चालान किया गया है। जबकि परिवहन विभाग द्वारा 2010 वाहनों का चालान कर 61.35 लाख जुर्माना वसूला गया है। बैठक में पुलिस अधीक्षक श्वेता चौबे, अपर जिलाधिकारी डा.अभिषेक त्रिपाठी, अधीक्षण अभियंता राजेश शर्मा, सहायक सभागीय परिवहन अधिकारी ज्योति शंकर मिश्र सहित वर्चुअल माध्यम से सभी एसडीएम, लोनिवि, बीआरओ, पुलिस एवं अन्य सड़क निर्माणदायी विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!