सोशल म्यूचुअल बेनिफिट ने आरोप किए खारिज, कहा – उसका कामकाज साफ सुथरा

Spread the love
देहरादून, 2  नवंबर  (उ  हि )। सोशल म्यूचुअल बेनीफिट्स निधि लि. ने वित्तीय अनियमितताओं के आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए किसी भी जांच का सामना करने की बात कही है। कंपनी ने कहा कि उस पर लगाए जा रहे आरोप निराधार, भ्रामक और उसकी छवि को खराब करने की नीयत से लगाए गए प्रतीत होते हैं। बुधवार को कम्पनी के निदेशक मंडल की ओर से जारी विज्ञप्ति में स्पष्ट किया गया है कि कुछ समाचार पत्रों द्वारा कल कम्पनी के विरुद्ध कथित वित्तीय अनियमित्ताओं की जांच आर्थिक अपराध शाखा से किये जाने का समाचार पर ऐतराज व्यक्त करते हुए कहा है कि मीडिया के एक वर्ग ने कंपनी के विरुद्ध निराधार आरोप को इस प्रकार प्रकाशित किया गया जिससे आम नागरिक यह समझे कि कम्पनी आर्थिक अपराध की दोषी है या वह अनैतिक गतिविधियों में संलिप्त है।
                                      Amar Ujala story was published on 2 November.
कंपनी के निदेशक मंडल की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि प्रश्नगत विषय के सम्बन्ध में पूर्व में पुलिस द्वारा विस्तृत जांच की जा चुकी है तथा प्रकरण में विधानसभा के पटल पर भी सरकार पूर्व में स्पष्ट कर चुकी है कि कम्पनी द्वारा कोई वित्तीय अनियमिततायें नहीं की गयी है। निदेशक मंडल का कहना है कि ऐसा लगता है कि कुछ निहित स्वार्थी तत्व कम्पनी की छवि को धूमिल करने व उसे आर्थिक समाजिक नुकसान पहुँचाने के उददेश्य से बार – बार एक ही शिकायत को जानबूझ कर सरकार को गुमराह करने हेतु प्रेषित कर रहे हैं। निदेशक मंडल ने स्पष्ट किया है कि कम्पनी नियमानुसार अपना समस्त वित्तीय कारोबार पिछलें 45 वर्षों से अधिक समय से क्षेत्र में कर रही है तथा समस्त लेखा विवरण सम्बन्धित विधि के अनुसार नियमित रूप से जिलाधिकारी व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, देहरादून के पास जमा कराती चली आ रही है, साथ ही प्रत्येक लेन – देन का विवरण लेखा परीक्षण करवा कर भारत सरकार के सम्बन्धित मंत्रालय व नियामक प्राधिकारी के समक्ष प्रस्तुत करती चली आ रही है।
बयान में कम्पनी के समस्त निवेशकों को उनके विश्वास के लिए आभार व्यक्त करते हुए भरोसा दिया है कि निवेशकों के हितों को सर्वोच्च प्राथमिकता देती रही है तथा देती रहेगी। साथ ही कहा गया है कि कम्पनी सदैव जनसाधारण के निवेश की सुरक्षा हेतु दृढ संकल्प है और कम्पनी किसी भी जांच के लिए सदैव तत्पर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!