न्याय पाना हर नागरिक का मौलिक अधिकार : नरेंद्र दत्त

Spread the love

-उत्तराखंड हिमालय ब्यूरो

गोपेश्वर, 7 नवंबर। राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली के निर्देश पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण चमोली के तत्वाधान में रविवार 6 नवंबर को विकास खंड सभागार दसौली में जनपद न्यायाधीश/ अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण चमोली श्री नरेंद्र दत की अध्यक्षता में बहुउद्देशीय विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया।


शिविर में जनपद के सीजेएम श्री सचिन कुमार,, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्रीमती सिमरनजीत कौर के साथ ही जिला बार संघ के अध्यक्ष भरत सिंह रावत , पोक्सो एक्ट के तहत नियुक्त डीजीसी मोहन पंत ने प्रतिभाग किया।


इस अवसर पर जनपद के सभी मुख्य जनहित योजनाओं को क्रियान्वित करने वाले समस्त विभाग एवं अधिकारीगण उपस्थित रहे। विधिक जागरूकता शिविर में लगभग 400 महिलाओं और 200 पुरुषों द्वारा प्रतिकार किया गया, जिन्हें कानूनी जानकारी प्रदान की गई । इसके साथ ही साथ लगभग 100 बच्चे भी शिविर में सम्मिलित हुए।


शिविर शिविर में जिला न्यायाधीश नरेंद्र दत्त ने कानूनी जानकारी देते हुए जन समूह को बताया कि शिविर आयोजित करने का मुख्य उद्देश्य न्याय हर घर तक पहुंच सके और न्याय पाने से कोई भी नागरिक वंचित न रहे।


मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट द्वारा बाल अधिकारों के संबंध में जानकारी दी गई वहीं डीजीसी द्वारा पोक्सो एक्ट के संबंध में अवगत कराया। इस अवसर पर जनपद के विभिन्न विभागों से आए अधिकारियों ने विभागों द्वारा चलाई जा रही जन कल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी दी जबकि शिविर के समापन पर श्रीमती सिमरनजीत कौर द्वारा विधिक सेवाओं और पेन इंडिया कार्यक्रम के संबंध में विस्तार पूर्वक जानकारी दी गई।

इस अवसर पर विभाग द्वारा स्टाल के माध्यम से भी जनहित की सामग्री का वितरण और विभागों से संबंधित जानकारी आम जनमानस को उपलब्ध कराई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!