गौचर मेले में कांग्रेसियों और व्यापारियों ने मुख्यमंत्री धामी को सौंपे ज्ञापन

Spread the love

गौचर से दिगपाल गुसाईं –

गौचर मेले के पहले दिन विभिन्न मंगों को लेकर कोंग्रेसियों और व्यापार मंडल के प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को ज्ञापन सौंपे। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मुख्य मंत्री को सौंपे ज्ञापन में पूर्व में घोषित सामुदायिक स्वास्थ्य का शासनादेश करने व पशु चिकित्सा महाविद्यालय की स्थापना किए जाने की मांग की जबकि व्यापारियों ने मुख्यमंत्री को नगर की विभिन्न समस्याओं से अवगत कराया।

कांग्रेस नगर अध्यक्ष सुनील पंवार, पूर्व पालिकाध्यक्ष मुकेश नेगी, पूर्व कांग्रेस नगर अध्यक्ष विजय प्रसाद डिमरी महिला कांग्रेस की प्रदेश उपाध्यक्ष इंदू पंवार, हरीश नयाल,यंग ब्रिगेड के प्रदेश अध्यक्ष अजय किशोर भंडारी आदि ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को सौंपे ज्ञापन में पूर्व में घोषित गौचर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का शासनादेश जारी करने, पूर्व में घोषित पशु चिकित्सा महाविद्यालय , बोली भाषा संस्थान की स्थापना किए जाने के साथ ही, नगर क्षेत्र की विकराल हो रहा जाम की समस्या के लिए पार्किंग का निर्माण करने, पालीटेक्निक व जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान के निर्माणाधीन भवनों का निर्माण पूरा करने के अलावा बरसात के पानी की निकासी की समुचित व्यवस्था किए जाने की मांग की है।

व्यापार संघ अध्यक्ष राकेश लिंगवाल ने गौचर मेले के उद्घाटन अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को सौंपे ज्ञापन के माध्यम से नगर की विभिन्न समस्याओं से अवगत कराकर निराकरण की मांग की।
ज्ञापन में उन्होंने कहा कि गौचर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का उच्चीकरण न होने से जनता को इसका लाभ नहीं मिल पा रहा है। राजकीय पालीटेक्निक व बालिका इंटर कालेज गौचर में अध्यापकों की कमी का असर छात्र छात्राओं के पठन पाठन पर पढ़ रहा है। आवारा जानवरों, बंदरों, लंगूरों के आतंक से कास्तकार ही नहीं बल्कि पूरा जनमानस परेशान है। सिंचाई नहरों की खस्ताहाल से क्षेत्र के कास्तकार भारी परेशान हैं। सिंचाई के लिए समय पर पानी उपलब्ध न होने की वजह से कास्तकार समय पर फसलों की बुवाई तक नहीं कर पा रहे हैं। नगरपालिका क्षेत्र में पार्किंग की व्यवस्था न होने की वजह से जाम लगना आम बात हो गई है। बढ़ती जनसंख्या के मध्यनजर स्थानीय पुलिस चौकी में स्टाफ की भारी कमी होने की वजह से सुरक्षा व्यवस्था मे व्यवधान पैदा हो रहा है। रिपोर्टिंग चौकी का उच्चीकरण किया जाना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!